रेल हादसा: लखीसराय में मौर्य एक्सप्रेस की बोगी में घुसी रेल पटरी, एक की मौत, दो घायल

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 04/14/2018 - 09:10

Lakhisarai: लखीसराय के किऊल रेलवे जंक्शन के पास शानिवार की अहली सुबह बड़ा रेल हादसा होने से बच गया. अगर बड़ी घटना होती तो सैंकेड़ों यात्रियों की जान जा सकती थी. हालांकि, जो हादसा हुआ वो अजीब है और इस दुर्घटना में एक यात्री की मौत हो गयी. जबकि दो घायल हैं.

इसे भी पढ़ें:अमरीकी राष्ट्रपति ने सीरिया के ख़िलाफ़ युद्ध की घोषणा की, किया हमला

दरअसल पटना-हावड़ा मेन रेल लाइन पर किऊल रेलवे जंक्‍शन के पास अप हटिया-गोरखपुर मौर्य एक्‍सप्रेस की जेनरल बोगी में अप लाइन ट्रैक के किनारे रखी 10 फीट लंबी एक रेल पटरी बोगी में छेद करते हुए घुस गई. इससे बोगी के दरवाजे के पास वाली सिंगल सीट पर बैठा आजमगढ़, यूपी के मुन्‍नी लाल सेठ का पुत्र मंगल सेठ (50) की दर्दनाक मौत हो गई जबकि सकरौली, सहरसा के खुशी लाल साह के पुत्र मुकेश कुमार (28) एवं चैता काली स्‍थान समस्‍तीपुर के दिनेश सहनी के पुत्र त्रिदेव सहनी (27) गंभीर रुप से जख्‍मी हो गए. किऊल जंक्शन स्‍टेशन के आउटर सिग्‍नल के पास पोल संख्‍या 418/17 के पास  ये घटना शानिवार की सुबह करीब 3:37 बजे हुई है.

अफरातफरी का रहा माहौल

ट्रेन में सफर कर रहे एक यात्री ने बताया कि वह सोया हुआ था, इसी बीच पटरी ट्रेन में जोरदार आवाज के साथ घुसी. उसके बाद उसे लगा कि कोई विस्फोट हो गया है. उसने बताया कि उसके बाद यात्रियों में अफरा तफरी मच गयी. लोगों को लगा कि करेंट या आग जैसी कोई घटना हो गयी है. क्योंकि पटरी घुसने के बाद पूरे बोगी में धुआं जैसा भर गया. यात्री ने बताया कि पटरी सात फिट तक ऊपर निकल गयी.

इसे भी पढ़ें:50 लाख के रिश्वत कांड में सीबीआई ने आयकर आयुक्त श्वेताभ सुमन को किया गिरफ्तार, तीन अन्य लोग भी शिकंजे में

हादसे पर लोगों का हंगामा

इधर इस अजीबोगरीब हादसे पर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा. ट्रेन के किउल स्‍टेशन के प्‍लेटफार्म नंबर तीन पर पहुंचने पर यात्रियों ने जमकर हंगामा किया. मंगल सेठ, मुकेश कुमार एवं त्रिदेव सहनी को तत्‍काल रेलवे अस्‍पताल किऊल ले जाया गया जहां डॉक्‍टर आलोक कुमार ने मंगल सेठ को मृत घोषित कर दिया. जबकि दोनों जख्‍मी को प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए सदर अस्‍पताल लखीसराय भेज दिया गया है.

बम ब्लास्ट की उड़ी थी अफवाह

मौर्य एक्सप्रेस की तेज रफ्तार होने के कारण, जब रेलवे ट्रैक बोगी में घुसी तो जोरदार आवाज के साथ ट्रेम रुक गयी. जबकि बोगी पूरी तरह से धुएं से भर गया था. थोड़े देर के लिए यात्रिय़ों को लगा कि ट्रेन में ब्लास्ट हुआ है. लेकिन बाद में ये अफवाह निकली. फिलहाल  घटना की सूचना पर दानापुर रेल मंडल से अधिकारी किऊल के लिए रवाना हो गए हैं..

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Main Top Slide
loading...
Loading...