राय यूनिवर्सिटी यौन शोषण मामला : जांच कमेटी ने कहा- कोई शिकायतकर्ता ही नहीं, पर विसल ब्लोअर असिस्टेंट रजिस्ट्रार को ही हटा दिया

Publisher NEWSWING DatePublished Thu, 04/12/2018 - 22:00

Ranchi : राय यूनिवर्सिटी झारखंड में पिछले सप्ताह  शिक्षक सुधांशु मौर्य के द्वारा विवि के प्रथम वर्ष की छात्रा के साथ यौन शोषण का मामला सामने आया था. जिसे राय यूनिवर्सिटी प्रशासन पूरी तरह से दबाने का प्रयास कर रही है. इस मामले का पूरा डियो टेप  सामने आया था, जिसमें युवती अपने पर शिक्षक द्वारा प्रताड़ना की बात स्वीकार कर रही थी. इस पर राय यूनिवर्सिटी की चांसलर सविता सेंगर ने कहा था कि मामले में जांच कमेेटी का गठन किया गया था, जिसने अपनीी रिपोर्ट में कहा है कि इस प्रकरण में कोई कंप्ले ही नहीं है, इसलिए मामले पर जांच नहीं की जा सकतीी. सबसे रोचक तथ्य ये है कि आरोपी और विल ब्लोअर दोनों पद मुक्त किए जा चुके हैं. अगर ऐसा कुछ नहीं था तो दोनाेंं को पद मुक्त क्यों किया गया.

आपने तो पूरा मामला छाप ही दिया अब क्या जानना है, हमने मामले में जांंच कमेटी बनाई थी, कोई शिकायतकर्ता सामने नहीं आया. इसके बाद जांच बंद कर दी ग,  “सविता सेंगर चांसलर” 

इसे भी देखें- राय यूनिवर्सिटी झारखंड के शिक्षक सुधांशु मौर्य ने छात्राओं का किया यौन शोषण, विवि प्रबंधन ने कहा- मामले की जांच कर रही कमिटी

डरी हुई थी छात्रा, ब्लैक मेल करने की कही थी बात 

जो टेप सामने आया है उसमें छात्रा ने ये साफ कहा है कि प्रो सुधांशु  मौर्य द्वारा उसे लगातार ब्लैकमेल किया जा रहा था. साथ ही उसे अपने साथ रिलेशन में आने की जिद कर रहा था. ऐसा नहीं करने पर छात्रा के प्राईवेट फोटो को वायरल करने की धमकी दे रहा है. प्रो सुधांशु  ने परीक्षा के दौरान छात्राओं से मोबाइल फोन जमा लेकर सारा डाटा अपने पास ले लिया है. ये भी बात सामने आई है कि छात्रा से पहले दो तीन अन्य छात्रा सुधांशु  मौर्य के ब्लैकमेल और शोषण का शिकार हो चुकी है. ये बात सामने आने के बाद भी विवि प्रशासन ने छात्रा को कोई सुरक्षा का भरोसा नहीं दिलाया, यही वजह है की छात्रा सामने नहीं आयी. 

इसे भी देखें- मानव तस्करों के चंगुल से मुक्त हुई झारखंड की बेटियां, दिल्ली में जबरन कराया जा रहा था घरेलू काम

सुधांशु  मौर्य का नंबर दूसरे के नाम से है रजिस्टर 

छात्रा के इस डियो से ये भी पता चला है कि जिस नंबर का उपयोग कर सुधांशु  मौर्य छात्रा का प्राईवेट फोटो वायरल करने की धमकी दे रहा है वो नंबर भी बिहार के किसी युवक के नाम से लिया गया है. इसका साफ मतलब ये है कि वो गलत नियत से ही इस नंबर का इस्तेमाल कर रहाा है. पीड़ित छात्रा इस बात को बताने के दौरान काफी डरी हुई थी और लगातार ये कह रही थी कि मेरा फोटो वो वायरल कर देंगे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Special Category
City List of Jharkhand
loading...
Loading...