राबड़ी देवी कमाई में लालू प्रसाद यादव से दो कदम आगे, अरबों रुपये की है मालकीन

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 04/14/2018 - 15:15

Patna : बिहार विधान परिषद के लिए राजद उम्मीदवार व पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने आयोग को अपनी चल-अचल संपत्ति का ब्योरा दिया है. दिये गये ब्योरा के अनुसार राबड़ी देवी की कमाई लालू प्रसाद यादव से दोगुनी है. राबड़ी देवी ने अपने ब्योरा में अरबों की संपत्ति का हिसाब बताया है. पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी के पुत्र संतोष सुमन समेत राजद के बाकी उम्मीदवारों की संपत्ति भी करोड़ों में है. लालू यादव से राबड़ी देवी की आय ज्यादा होने का कारण है, राबड़ी देवी सामाजिक कार्य के साथ व्यवसाय भी करती हैं, वहीं लालू प्रसाद के सामाजिक कार्य करते हैं. लालू प्रसाद का व्यवसाय से कोई लेना-देना नहीं है. राबड़ी देवी के पास नकदी केवल एक लाख 24 हजार 127 रुपये है. पिछले वित्तीय वर्ष में राबड़ी की कर योग्य आय 42.32 लाख थी, जबकि लालू प्रसाद की आय 19.68 लाख थी.

दिये गये विवरण में राबड़ी के नाम पर कुल 9.54 करोड़ की अचल संपत्ति का ब्योरा है, जिसका खरीद मूल्य 1.58 करोड़ रुपये है. लालू प्रसाद यादव के नाम पर भी 1.18 करोड़ की संपत्ति है, जिसे 56.78 लाख में खरीदा गया था. राबड़ी के पास 90 हजार रुपये कीमत की डबल बैरल गन और 50 कारतूस भी है. लालू के पास एक लाख रुपये कीमत की एनपी बोर राइफल है. तीन लाख रुपये की एक जर्मनी मेडेड पिस्टल भी है. 

इसे भी पढ़ें: ट्विटर पर सुशील मोदी की ऐसी की तैसी, तेजस्वी के खिलाफ ट्वीट पर जमकर हुए ट्रोल

राबड़ी देवी 14.45 लाख के गहने की मालकीन है

राबड़ी देवी का लारा प्रोजेक्ट में 1.81 करोड़ का निवेश है. राबड़ी के नाम से कंपनियों में शेयर 12.55 लाख रुपये है. राबड़ी देवी के खटाल में 41 गायें और 18 बछड़े भी है. दिये गये ब्योरा में राबड़ी देवी वाहनहीन हैं, वहीं लालू प्रसाद के पास एक 40 लाख रुपये की मर्सिडिज बेंज है. इसके अलावा 1990 मॉडल की मारुति-800 जिसकी कीमत 25 हजार रुपये और 20 हजार मूल्य की एक मिलिट्री डिस्पोजल जीप भी है. राबड़ी देवी 467 ग्राम सोने व एक किलो चांदी के गहने की मालकीन है, जिसकी कीमत 14.45 लाख रुपये है. वहीं लालू प्रसाद यादव के पास भी दो लाख के गहने है. 

करोड़ों रुपये के कर्जदार भी हैं राबड़ी देवी

राबड़ी देवी जहां अरबों की मालकीन है, वहीं करीब चार-पांच करोड़ के कर्जदार भी है. वहीं लालू प्रसादव यादव भी 62.22 लाख रुपये के कर्जदार हैं. लालू ने एचडीएफसी बैंक से 22.22 लाख रुपये का लोन ले रखा है. राबड़ी देवी ने अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए बेटे तेज प्रताप से 26.25 लाख, तेजस्वी यादव से 13.62 लाख एवं दामाद राहुल यादव से एक करोड़ रुपये कर्ज लिया है. वहीं रियलिटी निर्माण लिमिटेड से 50 लाख, इन्फोसिस्टम से 1.54 करोड़, लारा डिस्ट्रीब्यूटर्स से 1.15 करोड़ एवं मनोज कुमार से 61 हजार कर्ज लिया है. इसके अतिरिक्त 12.50 लाख का लोन और भी है. तीन पार्टियों से जमीन के बदले करीब डेढ़ करोड़ अग्रिम राशि भी ले चुकी हैं. प्रेमचंद गुप्ता से 15 लाख एवं सुभाष प्रसाद यादव से 25 लाख का कर्ज लिया है. 

इसे भी पढ़ें: सुबह आवास खाली करने का नोटिस-शाम को घटाई गई सुरक्षा, राबड़ी ने नीतीश कुमार को लिखा पत्र

राबड़ी देवी पर पांच मुकदमे

रेलवे टेंडर घोटाले में लालू परिवार पर जांच एजेंसियों ने शिकंजा कसा है. जांच एजेंसियों की कार्रवाई के बाद राबड़ी देवी भी सीबीआई, प्रवर्तन निदेशालय एवं आयकर विभाग की रडार पर हैं. उनके खिलाफ भी पांच अलग-अलग मामले दर्ज है. राबड़ी की तरफ से नामांकन पत्र में दिए गए विवरण के मुताबिक चार मामलों में संबंधित कोर्ट ने संज्ञान ले लिया है. इसके अलावा उनपर और कोई मामला नहीं है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

हजारीबाग डीसी तबादला मामला : देखें कैसे बीजेपी के जिला अध्यक्ष कर रहे हैं कन्फर्म  

न्यूज विंग की खबर का असर :  फर्जी  शिक्षक नियुक्ति मामले में तत्कालीन डीएसई दोषी करार 

बिजली बिल के डिजिटल पेमेंट से मिलता है कैशबैक, JBVNL नहीं शुरू कर पायी है डिजिटल पेमेंट की व्यवस्था

स्वीकार है भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की खुली बहस वाली चुनौती : योगेंद्र प्रताप

लाठी के बल पर जनता की भावनाओं से खेल रही सरकार, पांच को विपक्ष का झारखंड बंद : हेमंत सोरेन   

सुप्रीम कोर्ट का आदेश : नहीं घटायी जायेंगी एमजीएम कॉलेज जमशेदपुर की मेडिकल सीट

मैट्रिक व इंटर में ही हो गये 2 लाख से ज्यादा बच्चे फेल, अभी तो आर्ट्स का रिजल्ट आना बाकी  

बीजेपी के किस एमपी को मिलेगा टिकट, किसका होगा पत्ता साफ? RSS बनायेगा भाजपा सांसदों का रिपोर्ट कार्ड

आतंकियों की आयी शामतः सीजफायर खत्म, ऑपरेशन ऑलआउट में दो आतंकी ढेर- सर्च ऑपरेशन जारी

दिल्ली: अनशन पर बैठे मंत्री सत्येंद्र जैन की बिगड़ी तबियत, आधी रात को अस्पताल में भर्ती

भूमि अधिग्रहण पर आजसू का झामुमो पर बड़ा हमला, मांगा पांच सवालों का जवाब