जेल में लालू से मिलने आये नेताओं ने कहा- 'तेजस्वी के नेतृत्व में राजद लड़ेगा अगला चुनाव', फल-सब्जी लेकर पहुंचे कार्यकर्ता

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 01/22/2018 - 18:52

Ranchi : राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव से सोमवार को पार्टी के बिहार प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वेप्रधान महासचिव कमरे आलम और पूर्व मंत्री पद्माशा झा ने जेल में मुलाकात की. मौके पर रामचंद्र पूर्वें ने कहा कि बिहार का अगला चुनाव राजद तेजस्वी यादव के नेतृत्व में लड़ेगा. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय कार्यकारिणी की 19 दिसम्बर को हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया है. पार्टी अगला चुनाव लालू के मार्गदर्शन और तेजस्वी को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित कर लड़ेगी. जेल में लालू से मिलकर उनके स्वास्थ्य की जानकारी लीउन्होने कहा कि वह स्वस्थ्य हैं. पूर्व मंत्री ने कहा कि लालू एक विचार हैउनका दस लाख पत्र छापकर लोगों में बांटा जा चुका है. राजद आरएसएस और भाजपा के साथ कभी समझौता नहीं करेगा. उन्होंने कहा कि 2019 के अगामी चुनाव में कांग्रेस सहित अन्य पार्टियों का समर्थन राजद को रहेगा. बिहार से सांप्रदायिक शक्तियों को उखाड़ फेंकने के लिए राजद लगातार लोगों के बीच जनसंपर्क अभियान चला रहा है. लालू गरीबों के मसीहा रहे हैंगरीबों के हक लिए लगातार लड़े है.

इसे भी पढ़ें : झारखंड में अक्सर नक्सलियों के निशाने पर रहते थे ट्रेन, 2012 से घटनाओं में आयी कमी

लालू को तानाशाही ढ़ंग से जेल में रखा गया है

मौके पर पद्माशा झा ने कहा कि कांग्रेस बिहार में 2019 का चुनाव राजद के साथ मिलकर लड़ेगी. लालू से मिलकर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली.

Lalu in Jail (sybollic Photo)
Lalu in Jail (sybollic Photo)

झारखंड सरकार लालू को तानाशाही ढंग से जेल में रख रही है. उन्होंने कहा कि लालू एक साथ चुनाव लड़ने की बात सुनकर खुश हुए. साथ ही उन्होंने सांप्रदायिक शक्तियों को उखाड़ फेंकने का भी आह्वान किया. मौके पर विधायक भोला यादव ने एक सवाल के जवाब में कहा कि एनडीए के अंदर घमासान मचा हुआ है. एनडीए में भगदड़ हो रही है. राजद से भाजपा में कोई भी नेता नहीं जायेगा. यह सब भाजपा की बेबुनियाद बातें हैं. राजद के सभी नेता और कार्यकता अपने आप को लालू मानता है.

इसे भी पढ़ें : रघुवर दास का स्पेशल ब्रांच के एडीजी अनुराग गुप्ता को सीएस की जांच सौंपने के मायने ?

जेल मैनुअल का हवाला देकर सिर्फ तीन लोगों को मिलने दिया गया

लालू से मिलने राजद के कई नेता पहुंचे थे. लेकिन जेल मैनुअल का हवाला देकर मात्र तीन लोगों को ही लालू से मिलने दिया गया. लालू से मिलने पूर्व विधायक उमाकांत यादवपूर्व विधायक रामावतार पासवानरामबाबू रायत्रिलोकीनाथ पांडेयमुखिया उपेन्द्र कुमारनंदु यादवपीके चौधरीकाशीनाथ शाहलल्लू गोपडा शैलेन्द्र कुमार सिंहअधिवक्ता सुप्रीम कोर्ट अमरनाथ गुप्ताअनिल सिंह आजाद आये थे.

इसे भी पढ़ें : भाजपा मंत्री के 'डार्विन की थ्योरी' विरोधी बयान से भारतीय वैज्ञानिक असहमत, कहा- 'मंत्री जी की बातें अवैज्ञानिक'

खाने-पीने के खूब समान लेकर पहुंचे कार्यकर्त्ता

लालू के लिए उमाकांत यादव और रामावतार यादव अमरुदसेवअनार और रामबाबू राय हरा चनातिलकुटचूड़ाअबीरआलूशकरकंदगाजरभिंडी, परवलकरेलानेनुआकेलाखीरामिर्चानीबूलाल सागसरसों सागमूलीगोभीटमाटरसिम लेकर आये थे. रामचंद्र पूर्वें सेबअंगूर और चीकू और लल्लू गोप लालू के लिए ठेकुआ लेकर आये थे. सभी समानों को सुरक्षाबलों ने लालू तक पहुंचा दिया. सूत्रों के अनुसार सोमवार को लालू की स्वास्थ्य जांच की गयी. जिसमें शुगरब्लड प्रेशर और हार्टबीट सब कुछ सामान्य पाया गया.

इसे भी पढ़ें : देह व्यापार को वैध करने की मांग, भारतीय पतिता उद्धार सभा ने मोदी को लिखा पत्र

top story (position)