ओमान के 125 साल पुराने शिव मंदिर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की पूजा-अर्चना

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 02/12/2018 - 16:56

Muscat : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि वह मस्कट में 125 साल पुराने शिव मंदिर में पूजा करके बेहद धन्य महसूस कर रहे हैं. यह क्षेत्र के सबसे पुराने मंदिरों में से एक है. मोदी अपनी तीन देशों की यात्रा के आखिरी चरण में यहां पहुंचे. उन्होंने यहां मातराह क्षेत्र में स्थित मंदिर की यात्रा की. प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट में कहा कि मस्कट के शिव मंदिर में पूजा करके बेहद धन्य महसूस कर रहा हूं. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने अपने ट्वीट में कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने मस्कट में ऐतिहासिक शिव मंदिर में अभिषेक किया और मंदिर प्रबंधन समिति के सदस्यों के साथ बातचीत की. मंदिर का निर्माण गुजरात के व्यापारी समुदाय ने 125 साल पहले किया था और बाद में 1999 में उसका पुनरुद्धार किया गया.

इसे भी पढ़ें - हजारीबाग के बड़कागांव में हुए 3000 करोड़ के मुआवजा घोटाले की सीबीआई 

मंदिर में श्री आदि मोतीश्वर महादेव, श्री मोतीश्वर महादेव और हनुमानजी की प्रतिमा है

मंदिर में तीन देवता श्री आदि मोतीश्वर महादेव, श्री मोतीश्वर महादेव और हनुमानजी की प्रतिमा है. शुभ दिन में 15000 से अधिक श्रद्धालु पूजा के लिये मंदिर आते हैं. प्रधानमंत्री ने मंदिर प्रशासन के अधिकारियों और भारतीय समुदाय के सदस्यों के साथ समूह फोटो भी खिंचवायी.

इसे भी पढ़ें - दस दिनों में एक लाख शौचालय बनाने का सरकारी दावा झूठा, जानिए शौचालय बनाने का सच ग्रामीणों की जुबानी

मोदी ने मस्कट में सुल्तान कबूस जामा मस्जिद की यात्रा की

पीएम नरेंद्र मोदी ने मस्कट में सुल्तान कबूस जामा मस्जिद की यात्रा की. यह ओमान की सबसे बड़ी मस्जिद है. मस्जिद का निर्माण तीन लाख भारतीय बलुआ पत्थर से किया गया और इसके निर्माण में भारत से 200 शिल्पकार लगे थे. इसका 2001 में उद्घाटन किया गया था.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.