पलामू : मारपीट और गोलीबारी से आक्रोशित ग्रामीणों ने बंद करायी हिंडाल्को की कठौतिया कोल माइंस

Publisher NEWSWING DatePublished Fri, 01/12/2018 - 20:55

Palamu: पलामू जिले के पंडवा प्रखंड स्थित कठौतिया कोल माइंस पर शुक्रवार को ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया और कोयला उत्खनन कार्य ठप करा दिया. प्रदर्शन करने के बाद ग्रामीण अनिश्चितकाल के लिए धरने पर बैठ गए हैं. आन्दोलन को झारखंड विकास मोर्चा के नेता राजन मेहता, राम प्रवेश सिंह, जिला परिषद सदस्य गीता देवी, प्रमोद यादव, चंदेश्वर मेहता, सुनील सिंह समेत कई जनप्रतिनिधियों का समर्थन मिल रहा है.

इसे भी पढ़ेंः स्किल समिट : हाथ में था ज्वाइनिंग लेटर, पर मलाल यह कि 5 हजार की नौकरी के लिए घर-राज्य छोड़ना पड़ेगा

हिंडाल्को कर्मचारियों पर महिला से मारपीट करने का आरोप

ग्रामीणों का आरोप है कि जब से कठौतिया गांव में कोयले का उत्पादन शुरु हुआ है तब से लेकर अभी तक उनका सिर्फ शोषण एवं दोहन ही हो रहा है. कृषि योग्य जमीन को बिचैलियों द्वारा औने पौने दामों में खरीद लिया जा रहा है. ग्रामीणों का कहना है कि हमारी जमीन में जबरन खोदकर कोयला निकाला जा रहा है. विरोध करने पर एक महिला को मारा-पीटा गया. हिंडाल्को कर्मचारियों ने अभद्र व्यवहार भी किया.

इसे भी पढ़ेंः छात्र ने केंद्र सरकार को लिखा 'पुलिस बनने की पूरी ट्र‍ेनिंग मिली, वादे के मुताबिक नौकरी नहीं दे रही रघुवर सरकार, क्‍यों न नक्‍सली बन जाऊं'

झाविमो नेता ने हिंडाल्को गार्ड पर लगाया फायरिंग करने का आरोप

महिला द्वारा गांव में घटना की जानकारी दी गयी और पड़वा थाना में मारपीट का मामला दर्ज कराया. आरोप है कि इसकी सूचना मिलने पर जब जेवीएम नेता राजन मेहता मौके पर पहुंचे और जानकारी लेकर जाने लगे तो उन्हें देखकर हिंडालको के गार्ड ने उनपर फायरिंग कर दी. इससे ग्रामीणों में आक्रोश और बढ़ गया और राजन मेहता और रामप्रवेश सिंह, प्रमोद यादव के नेतृत्व में अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया. ग्रामीणों ने निर्णय लिया है कि जबतक ग्रामीण महिला के साथ मारपीट करने वाले हिंडालको कर्मचारी की गिरफ्तारी नहीं हो जाती, उनका आन्दोलन जारी रहेगा.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

top story (position)