पीजी 4th सेमेस्टर की परीक्षा में फेल सैकड़ों विद्यार्थी फरियाद लेकर पहुंचे रांची विवि के प्रति कुलपति के पास

Publisher NEWSWING DatePublished Fri, 03/09/2018 - 19:02

Ranchi : शुक्रवार को रांची विवि पीजी छात्र संघ अध्यक्ष तनुज खत्री के नेतृत्व में पीजी के छात्र-छात्राएं रांची विवि के प्रति कुलपति से मुलाकात की. ज्ञात हो कि पूर्व में आयोजित पीजी जूलॉजी, केमिस्ट्री मैथ्स आदि विषयों के 4th सेमेस्टर की परीक्षा में सैकड़ों छात्र-छात्राएं अनुतीर्ण हो गए हैं, जिसके परीक्षाफल का प्रकाशन जनवरी माह में हुआ था. अनुतीर्ण छात्र-छात्राओं में CSIR, NET, JRF क्वालीफाई छात्र भी शामिल हैं. वहीं कुछ छात्र अपने परीक्षा फल देखकर स्तब्ध हो गए थे. उन्होंने सूचना अधिकार 2005 के तहत अपनी उत्तरपुस्तिका देखने का आवेदन दिया, परंतु विश्वविद्यालय ने यहां पर भी नियम संगत समय सीमा को भी पार करते हुए छात्रों को सिर्फ आश्वासन पर ही बहला रही है. इस गंभीर मामले में छात्रों के द्वारा सूचना मिलते ही तत्परता के साथ छात्र नेता तनुज खत्री विश्वविद्यालय के प्रति कुलपति जो शुक्रवार से कुलपति के प्रभार में भी हैं से मिले और विद्यार्थियों की समस्या को रखते हुए समस्या का समाधान छात्र हित में करने का आग्रह किया.

इसे भी पढ़ें -अवैध कमेटी की अनुशंसा पर डीजीपी ने एसपी आवास में महिला सिपाही का यौन शोषण करने वाले सार्जेंट व रीडर को किया निलंबन मुक्त !

इसे भी पढ़ें -रांची विवि असिस्टेंट प्रोफेसर नियुक्ति का विरोध, पहुंच और पैरवी के आधार पर हुआ चयन !

अनुपस्थित परीक्षा नियंत्रक के खिलाफ जमकर हुई नारेबाजी

आज जैसे ही छात्र अपनी समस्या को लेकर परीक्षा नियंत्रक से मिलने गए तो अपने कार्यालय में मौजूद नहीं थे. काफी इंतज़ार के बाद छात्रों का सब्र टूटा और परीक्षा नियंत्रक के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गयी. छात्रों के आक्रोश को समझाते हुए उन्हें प्रति कुलपति से मिलने का सुझाव दिया. प्रति कुलपति ने भी मामले को गंभीरता से लेते हुए पूरे मामले का चेकआउट कर निष्पादन करने का भरोसा दिया.

इसे भी पढ़ें -सेंट्रल प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड ने टीटीपीएस को उत्पादन बंद करने को कहा, सिंचाई विभाग से कहा पानी ना दें, सीसीएल से कहा कोयला ना दें

लगातार गलतियों के बाद भी नहीं सुधर रहा है रांची विवि का परीक्षा विभाग

छात्र संघ अध्यक्ष तनुज खत्री ने कहा कि अगर एक साल के परीक्षा विभाग के कार्यकाल को देखेंगे, तो ऐसे कई मामले मिलेंगे जिसमें परीक्षा विभाग की लापरवाही सामने आयी है और विभाग ने अपनी गलती भी स्वीकार की है. इसके बावजूद भी गलतियों की पुर्णावृत्ति जारी है.  प्रदर्शन में संतोष कुमार, बुद्देश्वर महतो, रूपेश राय, अंशु सिन्हा, सुशील महतो, रेश्मा प्रवीण, पूनम भगत, निर्मल डुंगडुंग, पूनम टेटे, अर्चना कुजूर, समीर मंडल, एंजेला टोपनो, सुलेक्शा कुमारी, नाजरीन प्रवीण, ज्योति कुमारी, बलराम रविदास, बिभलता मुर्मू प्रशांत शर्मा समेत कई छात्र शामिल थे.

इसे भी पढ़ें - BCCI के कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना, सचिव अमिताभ चौधरी और कोषाध्यक्ष अनिरूद्ध चौधरी को हटाने की अनुशंसा

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

मोदी सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार ने निजी कारणों से दिया इस्तीफा

बीसीसीआई अधिकारियों को सीओए की दो टूकः अपने खर्चे पर देखें मैच

टीटीपीएस गाथा : शीर्ष अधिकारी टीटीपीएस को चढ़ा रहे हैं सूली पर, प्लांट की परवाह नहीं, सबको है बस रिटायरमेंट का इंतजार (2)

धोनी की पत्नी को आखिर किससे है खतरा, मांग डाला आर्म्स लाइसेंस

हजारीबाग डीसी तबादला मामला : देखें कैसे बीजेपी के जिला अध्यक्ष कर रहे हैं कन्फर्म  

न्यूज विंग की खबर का असर :  फर्जी  शिक्षक नियुक्ति मामले में तत्कालीन डीएसई दोषी करार 

बिजली बिल के डिजिटल पेमेंट से मिलता है कैशबैक, JBVNL नहीं शुरू कर पायी है डिजिटल पेमेंट की व्यवस्था

स्वीकार है भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की खुली बहस वाली चुनौती : योगेंद्र प्रताप

लाठी के बल पर जनता की भावनाओं से खेल रही सरकार, पांच को विपक्ष का झारखंड बंद : हेमंत सोरेन   

सुप्रीम कोर्ट का आदेश : नहीं घटायी जायेंगी एमजीएम कॉलेज जमशेदपुर की मेडिकल सीट

मैट्रिक व इंटर में ही हो गये 2 लाख से ज्यादा बच्चे फेल, अभी तो आर्ट्स का रिजल्ट आना बाकी