भागलपुर में नीतीश ने किया 223 करोड़ रुपये की 660 योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास

Publisher NEWSWING DatePublished Thu, 01/18/2018 - 09:52

Patna : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विकास कार्यों की समीक्षा यात्रा के क्रम में बुधवार को भागलपुर जिले के सुल्तानगंज प्रखंड के उधाडीह गांव का भ्रमण किया तथा 223 करोड़ रुपए की 660 योजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास किया. विकास कार्यों की समीक्षा यात्रा के क्रम में बुधवार को भागलपुर जिले के सुल्तानगंज प्रखंड के उधाडीह गांव पहुंचे नीतीश ने सात निश्चय के अंतर्गत चल रहे विकास कार्यों की प्रगति को देखा. साथ ही सीएम नीतीश ने पक्की गली-नाली, हर घर शौचालय, बिजली का कनेक्शन, हर घर नल का जल के बारे में गांव वालों से जानकारी ली.

शहीद निलेश कुमार के परिजनों से सीएम ने की मुलाकात

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने शहीद निलेश कुमार नयन के घर जाकर उनके चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित किया और उनकी माता बुलबुल देवी, पिता तरुण कुमार सिंह तथा अन्य परिजनों से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना दी. मुख्यमंत्री ने शहीद के परिजनों को राज्य सरकार की तरफ से सहायता प्रदान करने का आश्वासन दिया. गौरतलब है कि निलेश कुमार नयन भारतीय वायुसेना के गरुड़ कमांडो दल में तैनात थे. 11 अक्टूबर 2017 को जम्मू-कश्मीर सेक्टर के बांदीपुरा क्षेत्र में आतंकवादियों से मुठभेड़ में नयन शहीद हो गये थे.

इसे भी पढ़ें- चारा घोटाला : नोटिस के जवाब में सीएस राजबाला वर्मा ने दी सफाई, कहा 'फर्जी निकासी के लिए मैं नहीं, कोषागार के पदाधिकारी जिम्‍मेदार'

223 करोड़ रुपये की 660 योजनाओं का किया शिलान्यास

मुख्यमंत्री ने गांव भ्रमण के पश्चात आयोजित कार्यक्रम में 223 करोड़ रुपये की 660 योजनाओं का रिमोट के माध्यम से उद्घाटन एवं शिलान्यास किया. नीतीश ने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं एवं नगर निकाय में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण दिया गया है. लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए पोशाक एवं साइकिल योजना चलायी गयी. आठ लाख स्वयं सहायता समूह का गठन किया गया है और इसे दस लाख करने का लक्ष्य है. इससे एक से डेढ़ करोड़ महिलाओं का परिवार इस समूह से जुड़ जायेगा. उन्होंने कहा कि जीविका के गठन से महिलाओं में आत्मविश्वास और आत्मनिर्भरता आयी है. पहले पुरुषों की शक्ति का ही उपयोग होता था. अब महिलाओं की शक्ति का भी उपयोग होने लगा है. सात निश्चय के तहत ही महिलाओं को राज्य की सभी सरकारी सेवाओं में 35 प्रतिशत का आरक्षण लागू कर दिया गया है.

इसे भी पढ़ें- बुंडू के 320 लाभुकों के आधार नंबर सार्वजनिक किये जाने को लेकर गरमायेगा बजट सत्र

स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड के तहत युवाओं को मिलेगा चार लाख रुपये तक का लोन

मुख्यमंत्री ने कहा कि स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड के तहत युवाओं को चार लाख रुपये तक का लोन मिलेगा, जिससे वे आगे पढ़ सकेंगे। बैंकों के शिथिल रवैये के कारण युवाओं को परेशानी हो रही है. राज्य सरकार अगले वित्तीय वर्ष से अपना वित्त निगम बनाएगी, जिसके बाद युवाओं को कोई परेशानी नहीं होगी. स्वयं सहायता भत्ता के तहत एक हजार रूपये प्रतिमाह की दर से 2 साल तक दी जा रही है.

कुशल युवा कार्यक्रम के तहर होगा युवाओं का विकास

उन्होंने कहा कि कुशल युवा कार्यक्रम के तहत हर प्रखण्ड में कौशल विकास केंद्र पर युवाओं को कम्प्यूटर, व्यवहार कौशल, भाषा आदि का कोर्स कराया जा रहा है. हर एक जिले में इंजीनियरिंग कॉलेज, पॉलिटेक्निक कॉलेज, जीएनएम, पारामेडिकल, महिला आईटीआई की स्थापना की जायेगी. हर एक अनुमंडल में आईटीआई एवं एएनएम की स्थापना की जायेगी ताकि हमारे विद्यार्थियों को पढ़ने में कोई कठिनाई नहीं हो.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.