राम मंदिर का विरोध करने वाले मुस्लिमों को पाकिस्तान या बंग्लादेश चले जाना चाहिए : वसीम रिजवी

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 02/03/2018 - 12:27

यूपी के शिया वफ्फ बोर्ड के चेयरमैन हैं वसीम रिजवी

Faizabad(UP): उत्तर प्रदेश के शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने कहा है कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का विरोध करने वाले मुस्लिमों को 'पाकिस्तान या बांग्लादेश' चले जाना चाहिए. रिजवी ने अयोध्या में विवादित जमीन के पास नमाज़ पढ़ी और राम जन्मभूमि के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास से मुलाकात करने के बाद यह बात कही. वसीम रिजवी का यह बयान बाबरी मस्जिद-राम जन्मभूमि विवाद पर सुनवाई से ठीक पांच दिन पहले आया है. आठ फऱवरी को सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद-राम जन्मभूमि विवाद पर सुनवाई होनी है.

बगदादी के गुट में शामिल हो जाना चाहिए
समाचार एजेंसी भाषा की खबर के मुताबिक वसीम रिजवी ने कहा कि जो लोग अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर बनाने का विरोध कर रहे हैं और बाबरी मस्जिद चाहते हैं, वह कट्टर मानसिकता वाले लोग हैं. ऐसे कट्टर मानसिकता वाले लोगों को पाकिस्तान या बांग्लादेश चले जाना चाहिए. ऐसे मुसलमानों के लिए भारत में कोई स्थान नहीं है.  उन्होंने बताया कि मस्जिद के नाम पर जो जिहाद फैलाना चाहते हैं, उन्हें जरूर चले जाना चाहिए और आईएसआईएस प्रमुख अबू बकर अल बगदादी के गुट में शामिल होना चाहिए.  रिजवी ने आरोप लगाया कि कट्टरपंथी मुस्लिम मौलवी देश को तोड़ना चाहते हैं और उन्हें पाकिस्तान और अफगानिस्तान चले जाना चाहिए. 

top story (position)