माउंड एवरेस्ट फिर एक बार फतह, रीता शेरपा ने 22वीं बार झंडा लहराया, विश्व रिकॉर्ड बनाया

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 05/16/2018 - 21:38

kathmandu :    माउंड एवरेस्ट पर फिर एक बार फतह पायी गयी है. खबर है कि कामी रीता शेरपा ने बुधवार को 22वीं बार माउंड एवरेस्ट की चढ़ाई पूरी कर विश्व रिकॉर्ड कायम किया. बता दें कि शेरपा ने बुधवार सुबह 8,848 मीटर की ऊंचाई वाले माउंट एवरेस्ट पर झंडा लहराया. कहा जा रहा है कि नेपाल के रहने वाले शेरपा ने अप्पा शेरपा और फुर्बा ताशी शेरपा के 21 बार माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने के रिकॉर्ड को ध्वस्त कर नया रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज किया. यह पिछले साल हुआ था कि शेरपा ने 21वीं बार माउंट एवरेस्ट की चढाई पूरी की. जैसी की जानकारी है, शेरपा को माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई गुरुवार को पूरी करनी थी, लेकिन यह लक्ष्य एक दिन पहले ही पूरा हो गया.  काठमांडू रवाना होने से पहले शेरपा ने कहा,  इस एहसास से मुझे बेहत उत्साह मिला है कि मैं नया विश्व रिकॉर्ड कायम कर रहा हूं.  मैं अतिउत्साहित नहीं हूं, क्योंकि यह मेरे पेशवर करियर का हिस्सा है.  कामी रीता शेरपा 1994 में पहली बार 24 साल की उम्र में माउंट एवरेस्ट पर चढ़े थे. उन्होंने अंतिम बार 27 मई 2017 को माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई की थी.  उन्होंने कहा, इस साल अगर मैं रिकॉर्ड बना लेता हूं तो भी मैं माउंट एवरेस्ट पर चढ़ाई को जारी रखूंगा. उन्होंने 25 बार इस पर चढ़ाई करने का रिकॉर्ड बनाने की उम्मीद जताई.

इसे भी पढ़ेंः सोशल मीडिया पर राहुकाल कर रहा ट्रेंड,  भाजपा, कांग्रेस-जेडीएस राहुकाल के फेर में

 शेरपा K2, चो-ओयु, ल्होस्ते तथा अन्नपूर्णा पर पहले ही चढ़ाई कर चुके हैं

नेपाल के सोलुखुंबू जिले के थामे गांव के रहने वाले कामी रीता अनुभवी पर्वतारोही हैं.  वे K2, चो-ओयु, ल्होस्ते तथा अन्नपूर्णा सहित 8,000 मीटर से अधिक की ऊंचाई वाली अधिकांश चोटियों पर पहले ही चढ़ाई कर चुके हैं. शेरपा ने सोमवार को मीडिया से कहा,  मैं इतिहास रचने के लिए एक और प्रयास करूंगा जिससे शेरपा समुदाय और मेरे देश को गर्व हो. आपको बता दें कि शेरपा एक समुदाय है जो ऊंची नेपाली पहाड़ियों की तराई में रहता है.  माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई करने वाले विदेशी पर्वतारोही आम तौर से इन्हीं के मार्गदर्शन में अपना अभियान पूरा करना चाहते हैं क्योंकि बर्फ से ढंकी ऊंची-ऊंची चोटियों और दुर्गम इलाकों से इस समुदाय के लोग परिचित होते है और इनकी शारीरिक मजबूती दुरुह सफर में सहायक बनती है.  

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलोभी कर सकते हैं.

na