मंत्री रंधीर सिंह का पार्टी के खिलाफ बयान, कहा - 'बीजेपी से मतलब नहीं, पार्टी हमें तेल लगायेगी' (देखें-सुनें क्या कहा कृषि मंत्री ने)

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 01/13/2018 - 21:20

Ranchi: बीजेपी से नाराज चल रहे सूबे के कृषि मंत्री रंधीर सिंह ने एक बार फिर से पार्टी के खिलाफ बयानबाजी की है. सारठ में अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए उन्होंने बीजेपी को काफी भला-बुरा कहा. उन्होंने कहा कि वो लोग बीजेपी को तेल नहीं लगाएंगे बल्कि बीजेपी उन लोगों को तेल लगायेगी. साथ ही उन्होंने कहा कि वो पार्टी के लिए काम नहीं कर रहे हैं बल्कि वो उनसे जुड़ी जनता के लिए काम कर रहे हैं.

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल

हालांकि मंत्री रंधीर सिंह ने सभा से पहले सभी को मोबाइल बंद करने को कहा था, लेकिन भीड़ में किसी ने चुपके से सारा मामला रिकॉर्ड कर लिया. मामले पर ज्यादा जानकारी के लिए मंत्री रंधीर सिंह से बात की कोशिश की गयी. लेकिन उनसे बात नहीं हो पायी. उनका मोबाइल पहुंच से बाहर बता रहा था.

इसे भी पढ़ेंः जामताड़ाः कृषि मंत्री के क्षेत्र में रणधीर सेना का आतंक, सेनापति का पता नहीं, लेकिन सैनिक कर रहे उत्पात

जेवीएम से बीजेपी में आए थे रंधीर सिंह

2014 में जब सरकार का गठन हो रहा था. उस वक्त जेवीएम से पांच विधायक बीजेपी में शामिल हो गए थे. उन्हीं में से एक थे रंधीर सिंह. रंधीर सिंह सारठ से विधायक हैं. दलबदल के मामले में विधानसभा अध्यक्ष के कोर्ट में मामले की सुनवाई चल रही है. झाविमो छोड़कर भाजपा में आने वाले विधायकों में आलोक चौरसिया, अमर बाउरी, जानकी यादव, गणेश गंझू और नवीन जायसवाल शामिल हैं.

इसे भी पढ़ेंः कृषि मंत्री रणधीर सिंह के खिलाफ कोर्ट कंप्लेन, मुखिया ने कहाः मंत्री ने दी जातिसूचक गाली और जान से मारने की धमकी

क्या है नाराजगी की वजह

बताया जाता है कि दलबदल मामले की कार्रवाई को लेकर वह सरकार से नाराज चल रहे हैं.  स्पीकर ने उनके 43 गवाहों को अमान्य करार दे दिया है और झाविमो पक्ष के सभी गवाहों को सुना जा रहा है. इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री भी बात नहीं करते हैं. जब भी उनसे इस मामले में कुछ कहा जाता है तो उनकी दलील होती है की मामला स्पीकर के क्षेत्र का है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

City List of Jharkhand
Top Story
loading...
Loading...