गुरुवार से मैट्रिक-इंटर की परीक्षा, सीसीटीवी से होगी निगरानी, चोरी होने पर केंद्राधीक्षक पर गिरेगी गाज

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 03/07/2018 - 16:55

Ranchi : गुरुवार से राज्य में मैट्रिक और इंटर की परीक्षाएं शुरू होने वाली है. राज्यभर के कुल 4,31,734 छात्र मैट्रिक की और 3,16,369 परीक्षार्थी इंटर की परीक्षा में शामिल होंगे. परीक्षा को लेकर पूरी तैयारी कर ली गयी है. परीक्षा को कदाचार से मुक्त रखने के लिए केंद्रों में सीसीटीवी से निगरानी रखी जाएगी. प्रैक्टिकल की परीक्षा पहले ही ली जा चुकी है. 

बनाए गए 112 ऑब्जर्वर

परीक्षा पर नजर रखने के लिए जैक ने 112 ऑब्जर्वर बनाए हैं. रांची में 10 टीमें व हर जिले में दो-दो होंगी. प्रत्येक टीम में दो-दो सदस्य हैं. ऑब्जर्वर में प्रोफेसर व जैक के सदस्य शामिल हैं. ये सीधे तौर पर जैक से संपर्क में रहेंगे. यदि ऑब्जर्वर को कहीं कोई समस्या दिखेगीतो वे तत्काल जिला प्रशासन से संपर्क कर समस्या का निराकरण करेंगे.

इसे भी पढ़ें - SSC ने निकाली वैकेंसी, दिल्ली में सब इंस्पेक्टर बनने का शानदार मौका

मैट्रिक में सबसे अधिक परीक्षार्थी रांची से 

इंटर में पलामू से सबसे अधिक 38,648 व खूंटी में सबसे कम 6226 परीक्षार्थी जुटेंगे, इसी तरह मैट्रिक में सबसे अधिक रांची से 39,334 तथा सबसे कम लोहरदगा से 3995 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल होंगे.

इसे भी पढ़ें - UPSC के जरिये नौकरी का सुनहरा मौका, अंतिम तिथि 15 मार्च

चोरी हुई तो केंद्राधीक्षक जिम्मेदार

जैक ने सभी केंद्राधीक्षकों को निर्देश जारी कर कहा है कि परीक्षा में चोरी कही होती हैतो इसके लिए वे जिम्मेदार होंगे. परीक्षा केंद्र पर चोरी कराने वाले या सहयोग करने वाले पर सख्त कार्रवाई होगी. परीक्षा केंद्र में परीक्षार्थियों को किसी भी तरह की इलेक्ट्रॉनिक गैजेट मोबाइलपेजरमाइक्रोफोन आदि ले जाने पर भी पाबंदी लगा दी गयी है. अगर छात्रों के पास से इस तरह के उपकरण पाए जाते हैं तो छात्रों के साथ-साथ केंद्राधीक्षकों पर भी सख्त कार्रवाई होगी.

इसे भी पढ़ें - मेट्रो रेल में 386 पदों पर निकली है वैकेंसी, अंतिम तिथिः 27 मार्च

सभी उपायुक्तों को दिए गए हैं दस-दस लाख 

जैक अध्यक्ष अरविंद प्रसाद सिंह ने कहा कि वर्ष 2018 की परीक्षा लेने से पूर्व पूरी व्यवस्था कर ली गयी है. परीक्षा कदाचारमुक्त कराने के लिए सभी उपायुक्त को दस-दस लाख रुपये दिया गया है, ताकि हर परीक्षा केंद्र में सीसीटीवी लगाया जा सके और कदाचारमुक्त परीक्षा हो सके.

इसे भी पढ़ें - बोकारो : लुगू पहाड़ी पर पुलिस का सर्च अभियान, नक्सली वर्दी व साहित्य समेत संदिग्ध सामान बरामद  

पहले फरवरी में होती थी परीक्षा 

पिछले  वर्ष खराब रिजल्ट होने के कारण  सरकार ने एक कमेटी का गठन किया था , जिसके बाद कमेटी ने यह निर्णय लिया था. अब परीक्षा मार्च माह में करायी जाएगीजिससे बच्चोंं को परीक्षा की तैयारी का कुछ और समय मिल जाए और छात्रों का रिजल्ट और बेहतर हो सके. साथ ही रिजल्ट जल्द प्रकाशित हो इसके लिए छात्रों का  प्रैक्टिकल एग्जाम पहले ले लिया गया है. इससे पहले फरवरी माह में मैट्रिक व इंटर  परीक्षा हुआ करती थी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

भूमि अधिग्रहण पर आजसू का झामुमो पर बड़ा हमला, मांगा पांच सवालों का जवाब

सूचना आयोग में अब वीडियो कांफ्रेंसिंग से होगी सुनवाई, मोबाइल ऐप से पेश कर सकते हैं दस्तावेज

झारखंड को उद्योगपतियों के हाथों में गिरवी रखने की कोशिश है संशोधित बिल  :  हेमंत सोरेन

जम्मू-कश्मीर : रविवार से आतंकियों व अलगाववादियों के खिलाफ शुरु हो सकता है बड़ा अभियान

उरीमारी रोजगार कमिटी की दबंगई, महिला के साथ की मारपीट व छेड़खानी, पांच हजार नगद भी ले गए

विपक्ष सहित छोटे राजनीतिक दलों को समाप्त करना चाहती है केंद्र सरकार : आप

बॉडी गार्ड की चाहत में जिप अध्यक्ष ने खुद पर करवायी फायरिंग, पकड़े गए अपराधियों ने किया खुलासा

गोड्डा मॉब लिंचिंग : सांसद निशिकांत ने कहा प्रशासन ने सही किया या गलत पता नहीं, लेकिन केस लड़ने के लिए आरोपियों की करेंगे मदद

समय पर बिजली बिल नहीं मिला तो लगेगा 420 वोल्ट का झटका, जेबीवीएनएल को नहीं कोई फिकर

पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन पर मानवाधिकार परिषद लेगी फैसला : यूएन 

शुजात बुखारी को उनके पैतृक गांव में दफनाया गया, जनाजा में बड़ी संख्या में उमड़ी थी भीड़