डोरंडा कोषागार मामले में कोर्ट का आदेश, 23 जनवरी को लालू सहित सभी आरोपी हों सशरीर उपस्थित

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 01/20/2018 - 17:24

Ranchi : चारा घोटाला के आरसी 47 ए/96 मामले में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव शनिवार को सीबीआई के विशेष न्यायाधीश प्रदीप कुमार की अदालत में पेश हुए. इस मामले में पूर्व सांसद डॉ आर के राणापीएसी के तत्कालीन अध्यक्ष जगदीश शर्मा सहित अन्य आरोपियों को भी पेश किया गया. मामले में सीबीआई की ओर से 451 वां गवाह के रुप में जिला परिवहन विभाग रांची के सहायक राजेश कुमार वर्मा की गवाही दर्ज की गयी. राजेश ने सात वाहन निबंधन बही अभिप्रमाणित प्रति अदालत में दाखिल कर उसे सत्यापित किया. साथ ही इसके सभी पन्नों पर तत्कालीन जिला परिवहन पदाधिकारी योगेन्द्र पासवान के हस्ताक्षर की भी पहचान की गयी. निबंधन रजिस्टर में व्यवसायिक और निजी वाहन की इंट्री है. इसके जरिये साबित किया जायेगा कि पशुपालन विभाग में पशुओं, खाद्य पदार्थ और दवा की ढुलाई गैर व्यवसायिक वाहनों स्कूटरमोटरसाईकिल और अन्य निजी वाहन से की गई है.

इसे भी पढ़ें - सीएस राजबाला के हंसने पर सदन में बरपा हंगामा, विपक्ष ने हाथ में जूते लेकर कहाः सदन का उड़ाया मजाक या रघुवर पर हंसीं राजबाला

बसंत पंचमी के अवकाश के कारण सोमवार को अदालत बंद रहेगा

सीबीआई के वरीय विशेष लोक अभियोजक बीएमपी सिंह ने बताया कि बसंत पंचमी के अवकाश के कारण सोमवार को अदालत बंद रहेगी. लालू सहित मामले के कुल 120 आरोपियों को अदालत ने 23 जनवरी को सशरीर उपस्थित होने का आदेश दिया है. लालू की पेशी के दौरान सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये थे.

कोर्ट परिसर में राजद के कई नेता भी लालू से मिलने पहुंचे थे. इनमें भोला यादव,रणविजय सिंहसंजय सिंह यादवडा. मनोज कुमारअफरोज आलममनोज पांडेयविजय यादव सहित अन्य शामिल थे. गौरतलब है कि यह मामला डोरंडा कोषागार से 139.35 करोड़ रुपये की अवैध निकासी से जुड़ा है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.