केरल लव जिहाद मामला : हाइकोर्ट के फैसले को रद्द कर सुप्रीम कोर्ट ने हादिया की शादी को किया वैध

Publisher NEWSWING DatePublished Thu, 03/08/2018 - 15:16

New Delhi : सुप्रीम कोर्ट ने कथित लव जिहाद की शिकार केरल निवासी युवती हादिया को आज बड़ी राहत देते हुये शफीन जहां से उसकी शादी अमान्य घोषित करने का केरल हाईकोर्ट का फैसला रद्द कर दिया. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हादिया और शफीन जहान पति-पत्नी की तरह रह सकेंगे. प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर और न्यायमूर्ति धनन्जय वाई चन्द्रचूड की तीन सदस्यीय खंडपीठ ने साथ ही यह भी कहा कि इस मामले में राष्ट्रीय जांच एजेन्सी (एनआईए) अपनी जांच जारी रख सकती है.

इसे भी पढ़ें- 12 हजार की नौकरी के लिए गये थे मलेशिया - अब भूखे मरने की नौबत, तीन महीने से एम्बेसी में फंसे, सुध लेने वाला कोई नहीं

सुप्रीम कोर्ट ने धर्म परिवर्तन मामले की जांच का दिया था निर्देश

 सुप्रीम कोर्ट ने पिछले साल अगस्त में राष्ट्रीय जांच एजेन्सी को हादिया के धर्म परिवर्तन के मामले की जांच का निर्देश दिया था. क्योंकि एजेन्सी ने दावा किया था कि केरल में इस तरह का एक‘ तरीका’ सामने आ रहा है. यह मामला उस समय सुर्खियों में आया जब हादिया के पति शफीन जहां ने उसकी शादी अमान्य करार देने और उसकी पत्नी को माता पिता के घर भेजने के हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी.

इसे भी पढ़ें- लेनिन के बाद अब केरल में ही तोड़ी गयी महात्मा गांधी की मूर्ति, बापू के चश्मे को किया क्षतिग्रस्त

हाई कोर्ट ने हादिया और शफीन की शादी को अमान्य घोषित किया था

सुप्रीम कोर्ट ने पिछले साल 27 नवंबर को हादिया को उसके माता पिता की निगरानी से मुक्त करते हुये उसे कालेज में अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिये भेज दिया था. हालांकि, हादिया ने कहा था कि वह अपने पति के साथ ही रहना चाहती है. हाई कोर्ट ने पिछले साल मई में हादिया और शफीन के विवाह को लव जिहाद का एक नमूना बताते हुये इसे अमान्य घोषित कर दिया था.

इसे भी पढ़ें- दाऊद का सहयोगी फारुक टकला को CBI ने दिल्ली से किया गिरफ्तार

पिछले साल मुस्लिम धर्म अपनाकर हादिया ने शफीन से किया था निकाह

पिछले साल हादिया ने मुस्लिम धर्म अपनाकर शफीन नाम के एक युवक से निकाह कर लिया था. यह निकाह हादिया के घरवालों को मंजूर नहीं थी. इसलिये हादिया के पिता अशोकन केएम ने इस निकाह को रद्द करने के लिये कोर्ट में गुहार लगायी थी. जिसके बाद केरल हाईकोर्ट ने इसे लव जिहाद का मामला मानते हुए निकाह को रद्द कर दिया था. निकाह रद्द किये जाने के बाद हादिया के पति शफीन ने हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी. जिसपर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाते हुये गुरुवार को हाई कोर्ट के फैसले को रद्द कर दिया.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

भूमि अधिग्रहण पर आजसू का झामुमो पर बड़ा हमला, मांगा पांच सवालों का जवाब

सूचना आयोग में अब वीडियो कांफ्रेंसिंग से होगी सुनवाई, मोबाइल ऐप से पेश कर सकते हैं दस्तावेज

झारखंड को उद्योगपतियों के हाथों में गिरवी रखने की कोशिश है संशोधित बिल  :  हेमंत सोरेन

जम्मू-कश्मीर : रविवार से आतंकियों व अलगाववादियों के खिलाफ शुरु हो सकता है बड़ा अभियान

उरीमारी रोजगार कमिटी की दबंगई, महिला के साथ की मारपीट व छेड़खानी, पांच हजार नगद भी ले गए

विपक्ष सहित छोटे राजनीतिक दलों को समाप्त करना चाहती है केंद्र सरकार : आप

बॉडी गार्ड की चाहत में जिप अध्यक्ष ने खुद पर करवायी फायरिंग, पकड़े गए अपराधियों ने किया खुलासा

गोड्डा मॉब लिंचिंग : सांसद निशिकांत ने कहा प्रशासन ने सही किया या गलत पता नहीं, लेकिन केस लड़ने के लिए आरोपियों की करेंगे मदद

समय पर बिजली बिल नहीं मिला तो लगेगा 420 वोल्ट का झटका, जेबीवीएनएल को नहीं कोई फिकर

पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन पर मानवाधिकार परिषद लेगी फैसला : यूएन 

शुजात बुखारी को उनके पैतृक गांव में दफनाया गया, जनाजा में बड़ी संख्या में उमड़ी थी भीड़