केजरीवाल ने मोदी को पत्र लिख कहा – खत्म करायें आईएएस अधिकारियों की हड़ताल नहीं तो पीएम कार्यालय पर देंगे धरना

Publisher NEWSWING DatePublished Thu, 06/14/2018 - 13:03

New Delhi : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरूवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर आईएएस अधिकारियों की हड़ताल खत्म कराने में उनसे हस्तक्षेप की मांग की. साथ ही उन्होंने दावा किया कि उपराज्यपाल अनिल बैजल गतिरोध खत्म कराने के लिए कुछ नहीं कर रहे हैं.  मोदी को लिखे पत्र में केजरीवाल ने उन घटनाओं का जिक्र किया, जिनमें पिछले तीन महीने में मंत्रियों के साथ बैठकों में अधिकारियों के शामिल ना होने से सरकारी कामकाज बाधित हुआ. 

उन्होंने कहा कि आईएएस अधिकारियों की कथित हड़ताल की वजह से दिल्ली में मॉनसून से पहले नालों की सफाई , मोहल्ला क्लीनिक शुरू करने और वायु प्रदूषण पर लगाम लगाने के कदम बाधित हो गए हैं. केजरीवाल ने साथ ही कहा कि वायु प्रदूषण के मुद्दे से निपटने के लिए पिछले तीन महीने में आईएएस अधिकारियों और मंत्रियों के बीच कोई बैठक नहीं हुई है, जबकि राजधानी में पिछले तीन दिनों में हवा जहरीली हो गई है. 

इसे भी पढ़ें - राजस्थान की महिला मंत्री को करणी सेना ने दी नाक-कान काट लेने की धमकी

दिल्ली सरकार का नियंत्रण होता तो  हड़ताल कुछ घंटों में ही खत्म हो जाती

मुख्यमंत्री ने कहा कि आईएएस अधिकारी केंद्र और उपराज्यपाल के अधीन आते हैं और अगर उनपर दिल्ली सरकार का नियंत्रण होता तो उनकी हड़ताल कुछ घंटों में ही खत्म हो जाती. केजरीवाल और उनके मंत्री चार दिन से बैजल के कार्यालय में धरने पर बैठे हैं, जिसके बाद उन्होंने मोदी को पत्र लिखा. उनकी मांग है कि उपराज्यपाल आईएएस अधिकारियों को हड़ताल खत्म करने के निर्देश दें और उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई करें, जिनकी वजह से कामकाज बाधित हुआ. साथ ही उन्होंने उपराज्यपाल से राशन की घरों पर आपूर्ति के प्रस्ताव को भी मंजूरी देने की मांग की है. 

केजरीवाल ने प्रधानमंत्री को पत्र में लिखा कि हड़ताल के कारण कई सारे काम प्रभावित हो रहे हैं. चूंकि उपराज्यपाल आईएएस अधिकारियों की हड़ताल खत्म कराने के लिए कुछ नहीं कर रहे हैं तो दिल्ली सरकार और दिल्ली के लोग आपसे हाथ जोड़कर अनुरोध करते हैं कि तुरंत हड़ताल समाप्त कराई जाए ताकि दिल्ली का कामकाज फिर से शुरू हो सके.  उन्होंने कहा कि नालों की सफाई मॉनसून से पहले शुरू होनी चाहिए, लेकिन अधिकारी बैठकों में शामिल नहीं हो रहे हैं. जिससे काम प्रभावित हो रहा है. हड़ताल के कारण नए मोहल्ला क्लीनिक और पॉली क्लीनिक खुलने का काम रुक गया है. 

इसे भी पढ़ें - राहुल ने कहा, विपक्षी दलों का महागठबंधन जन भावना के अनुरूप, नेता कौन होगा, यह नहीं बताया

दिल्ली में प्रदूषण सबसे बड़ी समस्या

मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि दिल्ली में प्रदूषण सबसे बड़ी समस्या है. पहले इस मुद्दे पर हर 15 दिन में समीक्षा और योजना बैठक होती थी. लेकिन हड़ताल के कारण पिछले तीन महीने से ऐसी कोई बैठक नहीं हुई. एक अलग ट्वीट में केजरीवाल ने आरोप लगाया कि उपराज्यपाल कार्यालय ने उनके भाई को उनसे मिलने नहीं दिया. उन्होंने कहा कि मेरा भाई पुणे से मुझसे मिलने आया था. उसे मुझसे मिलने नहीं दिया गया. यह गलत है. डॉक्टरों के एक दल ने गुरूवार सुबह उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के स्वास्थ्य की जांच की जो अपनी मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर हैं. 

जब तक उनकी मांगें नहीं मानी जाती तब तक  उपराज्यपाल कार्यालय नहीं छोड़ेंगे

केजरीवाल ने कहा कि जब तक उनकी मांगें नहीं मानी जाती तब तक वह उपराज्यपाल कार्यालय नहीं छोड़ेंगे. आम आदमी पार्टी ने चेतावनी दी है कि अगर इस सप्ताह मुद्दे का समाधान नहीं तलाशा गया तो रविवार को प्रधानमंत्री कार्यालय पर धरना दिया जाएगा. आप सरकार के अनुसार अधिकारी मंत्रियों के साथ बैठकों में शामिल नहीं हो रहे हैं और ना ही उनके फोन उठा रहे हैं, जिससे सरकारी कामकाज प्रभावित हो रहा है. 

बहरहाल आईएएस अधिकारियों के संगठन ने दावा किया कि कोई अधिकारी हड़ताल पर नहीं है और कोई भी काम प्रभावित नहीं हुआ. उपराज्यपाल कार्यालय ने हाल में केजरीवाल के धरने की आलोचना करते हुए कहा कि बिना किसी कारण के एक और धरना. 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

 

top story (position)
na
7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

“महिला सिपाही पिंकी का यौन शोषण करने वाले आरोपी को एसपी जया रॉय ने बचाया, बर्खास्त करें”

यूपीः भीषण सड़क हादसे में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत

सरकार जमीन अधिग्रहण करेगी और व्यापक जनहित नाम पर जमीन का उपयोग पूंजीपति करेगें : रश्मि कात्यायन

16 अधिकारियों का तबादला, अनिश गुप्ता बने रांची के एसएसपी, कुलदीप द्विवेदी गए चाईबासा

नोटबंदी के दौरान अमित शाह के बैंक ने देश भर के तमाम जिला सहकारी बैंक के मुकाबले सबसे ज्यादा प्रतिबंधित नोट एकत्र किए: आरटीआई जवाब

एसपी जया राय ने रंजीत मंडल से कहा था – तुम्हें बच्चे की कसम, बदल दो बयान, कह दो महिला सिपाही पिंकी है चोर

बीजेपी पर बरसे यशवंतः कश्मीर मुद्दे से सांप्रदायिकता फैलायेगी भाजपा, वोटों का होगा धुव्रीकरण

अमरनाथ यात्रा पर फिदायीन हमले का खतरा, NSG कमांडो होंगे तैनात

डीबीटी की सोशल ऑडिट रिपोर्ट जारी, नगड़ी में 38 में से 36 ग्राम सभाओं ने डीबीटी को नकारा

इंजीनियर साहब! बताइये शिवलिंग तोड़ रहा कांके डैम साइड की पक्की सड़क या आपके ‘पाप’ से फट रही है धरती

देशद्रोह के आरोप में जेल में बंद रामो बिरुवा की मौत