कठुआ रेप मामला ब्रिटिश संसद में गूंजा, संसद ने कहा- पीएम मोदी न्याय का महत्व जानते हैं  

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 04/17/2018 - 15:54

London :  जम्मू और कश्मीर के कठुआ में आठ  साल की बच्ची से सामूहिक रेप और मर्डर का मामला अंतरराष्ट्रीय होता जा रहा है.  अब ब्रिटेन की संसद में यह मामला उठा है.  मामला पाकिस्तान मूल के विधायक पीर लॉर्ड अहमद ने  उठाया. अहमद ने भारत सरकार की ब्रिटिश संसद में कड़ी निंदा की और मानवाधिकार पर सवाल उठाये.  

इसे भी पढ़ें: झारखंड और बिहार में मनरेगा की सबसे कम मजदूरी, काम नहीं करना चाहते मजदूर

पाकिस्तान मूल के विधायक ने हस्तक्षेप की मांग की

पाकिस्तान मूल के विधायक ने ब्रिटिश सरकार से इस मामले में हस्तक्षेप की मांग की. रिपोर्ट्स के अनुसार सांसद पीर का जवाब देने के क्रम में ब्रिटिश संसद ने कहा  कि भारत मजबूत लोकतांत्रिक देश है, जहां मानवाधिकारों की सुरक्षा पर खास ध्यान दिया जाता है.  लेकिन यह भी सत्य है कि संविधान के अनुरुप कुछ अधिकारों को लागू करने में कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है.  संसद में कहा गया कि पीड़िता के परिवार के प्रति हमदर्दी है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी न्याय का महत्व जानते हैं.   बता दें कि कठुआ में हुए गैंगरेप ने देश में महिलाओं की सुरक्षा पर सवाल खड़े कर दिये हैं.   मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है और इस मामले की लगातार सीबीआई जांच की मांग उठाई जा रही है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

loading...
Loading...