कासगंज : इबादतगाह के गेट में लगी आग, दो सिपाही निलंबित

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 02/05/2018 - 14:32

Kasganj (Uttar Pradesh) : गणतंत्र दिवस पर हिंसा की चपेट में आये कासगंज में आज फिर माहौल बिगाड़ने की कोशिश की गयी. गंजडुडवारा इलाके में कुछ अराजक तत्वों ने एक इबादतगाह के गेट पर आग लगा दी. इस मामले में लापरवाही बरतने पर पुलिस के दो सिपाहियों को निलंबित कर दिया गया है.

इसे भी पढ़ें- भारत में ऐपल ने iPhones की बढ़ायी कीमत, औसतन तीन प्रतिशत का हुआ इजाफा

मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस व पीएसी बल तैनात

पुलिस अधीक्षक पीयूष श्रीवास्तव ने बताया कि गंजडुडवारा क्षेत्र में एक धार्मिक स्थल के गेट में तड़के आग लगा दी गयी. हालांकि पुलिस ने मुस्तैदी से काम करते हुए आग बुझा ली. अधिकारी ने बताया कि खुद उन्होंने और जिलाधिकारी आर.पी. सिंह ने मौके पर पहुंचकर हालात का जायजा लिया. मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस तथा पीएसी बल तैनात है. क्षेत्र में शांति कायम है. मामले की जांच की जा रही है. उन्होंने बताया कि इस मामले में लापरवाही बरतने पर कांस्टेबल हरिशरण और नागेन्द्र को निलंबित कर दिया गया है.

इसे भी पढ़ें- विदेश में रह रही बेटियों का शोषण, हर आठ घंटे में एक बेटी से हो रहा अत्याचार

आपत्तिजनक नारों को लेकर दो समुदायों के बीच 26 जनवरी को हुई थी झड़प

मालूम हो कि गणतंत्र दिवस पर कासगंज शहर में कथित रूप से आपत्तिजनक नारों को लेकर दो समुदायों के बीच पथराव और गोलीबारी में एक युवक की मौत हो गयी थी तथा कुछ अन्य घायल हो गये थे. घटना के बाद से शहर में रह-रहकर हिंसक वारदात हुई. मामले में अब तक 112 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इस बीच, कासगंज शहर में स्थिति धीरे-धीरे सामान्य हो रही है. हालांकि अधिकतर बाजार अब भी बंद हैं, लेकिन सड़कों पर लोगों का आवागमन शुरू हो चुका है. बहरहाल, जिला प्रशासन ने इंटरनेट सेवाओं को एहतियातन सोमवार की रात 10 बजे तक बंद रखा है. पुलिस, पीएसी और रैपिड एक्शन फोर्स की टुकड़ियां शहर में लगातार गश्त कर रही हैं. शहर की सीमाएं अब भी सील हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

loading...
Loading...

NEWSWING VIDEO PLAYLIST (YOUTUBE VIDEO CHANNEL)