कठुआ गैंगरेप: UN ने घटना को बताया ‘भयावह’,कहा- दोषियों को दें कड़ी सजा

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 04/14/2018 - 15:25

Washigton: कठुआ और उन्नाव रेप केस के दोषियों को सजा देने की मांग जहां पूरे देश में उठ रही है. वही अब यूएन में भी कठुआ रेप-मर्डर केस की गूंज है. संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस  ने कठुआ में आठ साल की बच्ची के साथ रेप और उसकी हत्या के मामले को भयावहकरार देते हुए,  इस जघन्य अपराध को अंजाम देने वाले आरोपियों को कानून के दायरे में लाए जाने की उम्मीद जाहिर की है.

इसे भी पढ़ेंकठुआ गैंगरेप केस: बीजेपी के दो मंत्रियों के इस्तीफे पर राम माधव लेंगे फैसला, पीडीपी की भी अहम बैठक

एंटोनियो गुटेरेस के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने कहा, ‘मैंने बच्ची के साथ गैंगरेप के इस जघन्य अपराध की मीडिया रिपोर्ट देखी है. हमें उम्मीद है कि अधिकारी अपराधियों को कानून के दायरे में लाएंगे ताकि बच्ची के साथ बलात्कार और उसकी हत्या के मामले में उन्हें सजा दी जाए. बच्ची के साथ बलात्कार और उसकी हत्या के मामले पर महासचिव की प्रतिक्रिया पूछे जाने पर दुजारिक ने यह बयान दिया है.

आठ लोगों की हुई गिरफ्तारी

गौरतलब है कि खानाबदोश बकरवाल मुस्लिम समुदाय की एक बच्ची 10 जनवरी को अपने घर के पास से लापता हो गई थी और एक हफ्ते के बाद उसका शव उसी इलाके में मिला था. पीड़िता की हत्या करने से पहले नशीला पदार्थ खिलाकर उसके साथ कई बार रेप किया गया. बाद में पत्थर से सिर कूचकर उसकी हत्या कर दी गई थी. इस मामले में क्राइम ब्रांच के एक विशेष जांच दल का गठन किया गया है. अभी तक दो पुलिस अधिकारियों सहित आठ लोगों की गिरफ्तारी की गई है.

इसे भी पढ़ें:कठुआ-उन्नाव गैंगरेप मामला: DCW चीफ ने शुरू किया अनिश्चितकालीन अनशन

ज्ञात हो कि पीएम मोदी ने भी मामले पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि अपराधियों को बख्शा नहीं जायेगा. उन्होंने कहा था , ‘मैं देश को यह आश्वासन देना चाहता हूं कि कोई अपराधी बख्शा नहीं जाएगा. न्याय होगा. हमारी बेटियों को इंसाफ मिलेगा.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Main Top Slide
loading...
Loading...