स्वच्छता में बेहतर प्रदर्शन करने वाला राज्य बना झारखंड

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 05/16/2018 - 21:27

Ranchi : देश के 4203 शहरों एवं नगरों में कराये गए स्वच्छता सर्वेक्षण के बाद केंद्र सरकार ने बुधवार को स्वच्छ भारत रिपोर्ट जारी कर दी. केंद्रीय आवास एवं शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने प्रेस वार्ता कर शहरों की सूची जारी की. इसमें झारखंड की स्थिति को पहले से बेहतर बताते हुए इसे बेहतर प्रदर्शन करने वाले राज्यों की सूची में पहला स्थान दिया है. 

गत वर्ष की तुलना में रैंकिंग में सुधार

2016 की तुलना में झारखण्ड ने अपने रैंकिंग में जबरदस्त सुधार किया है. राजधानी रांची समेत गिरिडीह, बुंडू, पाकुड और चाईबासा जैसे शहरों में भी काफी बेहतरीन प्रदर्शन किया है. मालूम हो कि गत वर्ष मिशन के तहत देश के 434 शहरों में हुए स्वच्छता सर्वेक्षण में रांची को 117 वां स्थान मिला था. वहीं राज्य के 9 शहरों को इस अभियान में शामिल किया गया था. इसमें भी रांची की स्थिति काफी खराब रही थी.

इसे भी पढ़ें- लालू प्रसाद के बेल बांड से संबंधित कानूनी प्रक्रिया पूरी, पासपोर्ट सरेंडर कर पटना रवाना हुए

झारखंड है बेहतर प्रदर्शन करने वाला राज्य

रिपोर्ट के मुताबिक झारखंड को देश भर में बेहतर प्रदर्शन करने वाले राज्य में पहला स्थान दिया गया है. वहीं राजधानी शहरों की सूची में रांची को सिटीजन फीडबैक वाली सूची में शामिल किया गया है. गिरीडीह को एक से तीन लाख जनसंख्या वाले शहरों की सूची में सिटीजन फीडबैक में बेहतर शहर माना गया है.

स्वच्छ भारत मिशन के नोडल ऑफिसर ने जताई खुशी

रिपोर्ट को लेकर जब न्यूज विंग के संवाददाता ने स्वच्छ भारत मिशन के नोडल ऑफिसर फरहत अनीसी से बात की तो उन्होंने बताया कि गत फरवरी माह में स्वच्छता सर्वेक्षण-2018 की जांच करने वाली टीम के रांची पहुंचने से पहले ही स्वच्छ भारत मिशन टीम के तहत काफी प्रयास किया गया था. हमारी तरफ से शहरवासियों के बीच एक पेपलेट वितरण कर फीडबैक की मांग की गई थी, ताकि वे बताएं कि उनके इलाकों से डोर टू डोर कचरा इकट्ठा होता है कि नहीं. इस तरह टीम के रांची आने से पहले ही हमने देखा था कि शहरवासी कितने संतुष्ट हैं. इसी का यह परिणाम है कि आज रिपोर्ट में रांची की स्थिति बेहतर रही है.

इसे भी पढ़ें- निगम की बैठक में दिखी पार्षदों की नाराजगी, सासंद ने अधिकारियों को लगाई कड़ी फटकार

मुख्यमंत्री ने जताई खुशी

रिपोर्ट जारी होने के बाद राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने खुशी जताते हुए कहा है कि यह पूरे राज्य की जनता के लिए गर्व का विषय है. इसके लिए उन्होंने राज्य की जनता, नगर विकास मंत्री, विभाग के अधिकारी, नगर निकाय के अधिकारी-कर्मचारी सभी बधाई के पात्र हैं. साथ ही कहा कि सरकार का उद्देश्य आने वाले समय में अन्य शहरों को भी बेस्ट रैंकिंग में शामिल कराना होगा.

निम्न मानक रखे गये थे सर्वेक्षण में

शहरी स्थानीय निकाय (यूएलबी) का कामकाज, नागरिक प्रतिक्रिया और स्वतंत्र मूल्यांकन, साफ-सफाई, कचरा इकट्ठा करने और इसका परिवहन, खुले में शौच से मुक्ति, क्षमता निर्माण, ठोस कचरे का निपटारा जैसे मानक रखे गए थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na