एनीमिया को लेकर राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वे के सबसे नीचले पायदान पर रहा झारखंड

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 01/31/2018 - 12:41

Ranchi : हाल ही में राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण के आंकड़ों के विश्लेषण से पता चलता है कि देश में महिलाओं के बीच एनीमिया की बीमारी में मामूली दो प्रतिशत की कमी आयी है. 2005-06 में 55 प्रतिशत से कम होकर 2015-2016 में 53 प्रतिशत आयी है, जो कि चिंता का विषय रहा है. देश के छह प्रमुख राज्यों में  महिलाओं के बीच कुल खून की कमी मामलों में वृद्धि देखी गयी है. रिपोर्ट के मुताबिक महिलाओं में एनीमिया की वृद्धि सबसे ज्यादा पंजाब में देखने को मिली है जो कि 15.0 प्रतिशत है वहीं दिल्ली में 10 प्रतिशत और हरियाणा में 6.6 प्रतिशत है.

इसे भी पढ़ें- विपक्ष ही नहीं बीजेपी के आधे से अधिक विधायक भी स्थानीय और नियोजन नीति के खिलाफ, 24 विधायकों ने सीएम को लिखी चिट्ठी

एनीमिया मामले में किस राज्य में कितने की हुई बढ़ोतरी

2005-06 की रिपोर्ट के मुताबिक पजाब में मात्र 38 प्रतिशत एनीमिया के मामले थे जो कि 10 सालों में बढ़कर 53.5 प्रतिशत हो गया. वहीं अगर दिल्ली की बात की जाये तो 44.3 प्रतिशत मामले थे 2005-06 में जो की 10 सालों में बढ़कर 54.3 प्रतिशत हो गये. हरियाणा में 56.1 प्रतिशत से 62.7 प्रतिशत हो गया. साथ ही यूपी में एनीमिया के मामले बढ़कर 49.9 प्रतिशत से 52.4 प्रतिशत हो गये. तमिलनाडू और केरला जहां की स्वास्थय व्यवस्था ठीक देखी गयी है वहां भी एनीमिया पीड़ित महिलाओं की संख्या में बढ़ोतरी देखी गयी. तमिलनाडू में दस सालों में एनीमिया के 53.2 मामले देखें गये जो कि इस बार के सर्वे में 55 प्रतिशत तक देखा गया. वहीं केरल में यह 32.8 प्रतिशत से बढ़कर 34.2 प्रतिशत हो गया है.

इसे भी पढ़ें- बकोरिया कांडः जेजेएमपी व कोबरा के चंगुल से छूट कर भागे प्रत्यक्षदर्शी सीताराम सिंह को पुलिस ने दो साल तक थाना में छिपा कर रखा

एनीमिया के मामले में झारखंड की स्थिति सबसे खराब

सर्वे के मुताबिक भारत के 36 राज्यों में से 21 राज्यों की महिलाएं एनीमिया से पीड़ित पायी गयी. वहीं अगर झारखंड की बात की जाये तो झारखंड की स्थिति इस मामले में सबसे खराब देखी गयी. झारखंड में कुल 65.2 प्रतिशत महिलाएं और 29.9 प्रतिशत पुरूष एनीमिया से पीड़ित पाये गये.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

City List of Jharkhand
loading...
Loading...