झांसी : मऊरानीपुर थाना प्रभारी का ऑडियो वायरल, कहा- BJP नेताओं को समझ लो, नहीं तो Encounter में मार दिये जाओगे

Publisher NEWSWING DatePublished Sun, 04/15/2018 - 11:34

Jhansi : उत्तर प्रदेश के झांसी में मऊरानीपुर थाना प्रभारी सुनीत कुमार सिंह का एक ऑडियो किल्प वायरल हुआ है. ऑडिया सुनने से पता चलता है कि वायरल ऑडियो थाना प्रभारी सुनित कुमार और पूर्व ब्लॉक प्रमुख लेखराज सिंह यादव के बीड के बातचीत का है. यह ऑडियो क्लिप वायरल होने के बाद मऊरानीपुर थाना प्रभारी को सस्पेंड कर दिया गया है. इस ऑडियो क्लिप पर संज्ञान लेते हुए एसएसपी विनोद कुमार सिंह ने बताया कि थाना प्रभारी को फौरी तौर पर निलंबित कर दिया गया है.

ऑडियो के वायरल होने के बाद यह साफ हो गया कि मऊरानीपुर थाना प्रभारी ने विभागीय गोपनीयता को तार-तार करते हुए मुठभेड़ से पहले ही अपराधी को इसकी और पुलिस भविष्य में क्या करने जा रही है यह सभी जानकारी मुहैया करा दी थी. अपराधी के सजग होने के बाद कल उसे पकड़ने का नाटक किया. जिसमें लेखराज अपने साथियों के साथ भाग निकला क्योंकि उसे इस पूरे घटनाक्रम के बारे में खुद सुनीत सिंह ने ही पहले से सब बता दिया था.

इसे भी पढ़ें - उन्नाव गैंगरेप मामला : भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर सात दिनों की सीबीआई रिमांड पर,  रुआंसे विधायक को याद आये भगवान

पूर्व में जेल भी जा चुके हैं मऊरानीपुर थाना प्रभारी सुनित कुमार

एसएसपी सिंह का कहना था कि मऊरानीपुर थाना प्रभारी जेल भी जा चुके हैं. बर्खास्त भी हो चुके हैं, लेकिन न्यायालय द्वारा नौकरी के लिए उपयुक्त पाए जाने के बाद उन्हें दोबारा नौकरी दी गई थी. गौरतलब है कि हाल ही में पुलिस से हुई मुठभेड़ में लेखराज भाग निकला था. वहीं, इस घटना से चंद दिनों पूर्व का एक ऑडियो वायरल हुआ है जिसमें थाना प्रभारी सुनीत कुमार सिंह मोस्ट वांटेड लेखराज सिंह यादव से फोन पर बातचीत कर रहे हैं और भाजपा के दो बड़े नेताओ के नाम लेते हुए उन्हें समझने के लिए लेखराज को बता रहे हैं. साथ ही खुद को भी एक आपराधिक प्रवृत्ति का होने का दावा कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें - अपराध और भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस की नीति पर अब भी हैं कायम : योगी आदित्यनाथ

ऑडियो में लेखराज बार-बार थाना प्रभारी से मांग रहा मदद

इस वायरल ऑडियो में लेखराज बार-बार थाना प्रभारी सुनित कुमार से मदद मांग रहा है, मगर थाना प्रभारी उसे भाजपा जिलाध्यक्ष संजय दुबे और बबीना विधायक राजीव सिंह पारीछा का नाम लेकर बता रहे हैं कि इन नेताओं को समझ लो. नहीं तो कुछ भी संभव है. वह लेखराज को एनकाउंटर करने की अप्रत्यक्ष रूप से धमकी भी दे रहे हैं. वह कह रहे हैं कि सरेंडर कर दो नहीं तो एनकाउंटर में मार दिए जाओगे. लेखराज बार-बार खुद के लिए मदद मांग रहा है और सुनीत कुमार सिंह उसे हर बार सिस्टम में आने के लिए कह रहे हैं. वह लेखराज को समझा रहे हैं कि सपा सरकार में भी आप जेल गए थे, पप्पू सेठ के समय. इसलिए सिस्टम को समझा करो और समझने की कोशिश करो. लेकिन, लेखराज उनके आगे सरेंडर करने को तैयार नहीं हो रहा है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

Main Top Slide
loading...
Loading...