IPL 2018: RCB की जीत से बदला प्ले ऑफ का समीकरण, हारकर मुश्किल में पंजाब

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 05/15/2018 - 15:08

New Delhi : रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने सोमवार को किंग्स इलेवन पंजाब को 10 विकेटों से हरा दिया. RCB ने 71 गेंद शेष रहते यह मैच जीत लिया. इस जीत से RCB के साथ-साथ मुंबई इंडियंस को भी राहत मिली है. पंजाब की इस हार के बाद प्ले ऑफ का पूरा समीकरण ही बदल गया है. आईपीएल के शुरुआत में प्ले ऑफ के लिए सबसे मजबूत टीम पंजाब दिख रही थी. मगर इस हार से पंजाब की राह मुश्किल होते दिख रही है, वहीं प्लेऑफ से बाहर होते दिख रही बैंगलोर ने इस जीत से अपनी उम्मीद को कायम रखा है. प्ले ऑफ में सनराइजर्स हैदराबाद और चेन्नई सुपर किंग्स की टीम पहले ही पहुंच चुकी है. प्ले ऑफ में दो जगह के लिए अब पांच टीमों में टक्कर है.

इसे भी पढ़ें -  करो या मरो के मैच में राजस्थान रॉयल्स और केकेआर आमने-सामने, दर्शकों को रोमांचक मुकाबले की उम्मीद

आइए जानते हैं प्ले ऑफ का समीकरण

राजस्थान रॉयल्स : 12 मैच, 6 जीत, 6 हार, 12 प्वाइंट्स, नेट रन रेट -0.347 
टूर्नामेंट में खराब शुरुआत के बाद राजस्थान की टीम ने जोरदार कमबैक किया है और फिलहाल चौथे नंबर पर है. राजस्थान को बाकी बचे मैच में शानदार फॉर्म में चल रहे जोस बटलर, ऑलराउंडर जोफ्रा आर्चर और संजू सैमसन से काफी उम्मीदें है. राजस्थान का रनरेट बेहद खराब है, इस लिहाज से राजस्थान की टीम केकेआर को बड़े अंतर से हराना चाहेगी. अगर वह आज केकेआर को हरा देती है तो उसके 14 पॉइंट हो जाएंगे. राजस्थान को अपना अंतिम मैच भी जीतना होगा.

इसे भी पढ़ें -  अश्विन को है अपनी टीम पर भरोसा, कहा - बाकी दो मैचों में बढ़िया प्रदर्शन करेंगे पंजाब के बल्लेबाज

राजस्थान रॉयल्स, कोलकाता नाइट राइडर्स
राजस्थान रॉयल्स, कोलकाता नाइट राइडर्स,

कोलकाता नाइट राइडर्स : 12 मैच, 6 जीत, 6 हार, 12 प्वाइंट्स, नेट रनरेट -0.189
कोलकाता नाइट राइडर्स फिलहाल 12 मैचों में 12 प्वाइंट्स के साथ तीसरे नंबर पर है. मुंबई से मिली 102 रनों की शर्मनाक हार के बाद टीम ने जोरदार वापसी करते हुए पंजाब को हराया. मंगलवार 15 मई को उसका मुकाबला राजस्थान रॉयल्स से ईडन गार्डंस में है. इस मैच में जीतने वाली टीम को प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीद कायम रहेगी. जो टीम जीतेगी उसके 14 प्वाइंट्स हो जाएंगे, क्योंकि राजस्थान के भी 12 अंक है. अगर कोलकाता यह मैच जीतती है तो वह प्ले ऑफ में पहुंचने के करीब जायेगी. यदि हारती है तो आखिरी मैच जीतने के साथ-साथ उसे किस्मत पर निर्भर रहना होगा, क्योंकि रन रेट के मामले में केकेआर (-0.189), मुंबई और बैंगलोर (+0.218) से कमजोर है. 

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर : 12 मैच, 5 जीत, 6 हार, 10 प्वाइंट्स, नेट रन रेट 0.218
बैंगलोर के लिए भी बेहतर रन रेट एक राहत की बात है. बावजूद इसके उसे अपने दोनों मुकाबले जीतने होंगे. इतना ही नहीं, पंजाब और केकेआर को कम से कम एक मुकाबला हारना होगा. दो मुकाबले जीतने पर RCB के 14 प्वाइंट्स हो जाएंगे और अगर बेहतर रन रेट अच्छा रहा तो वह क्वॉलिफाइ कर लेगी. पंजाब के खिलाफ मिली 10 विकेटों से मिली बड़ी जीत ने बंगलोर को प्लेऑफ के लिए लाइफ लाइन दिया है.

इसे भी पढ़ें - Sachin Tendulkar ने CBSE से कहा, बच्चों में मोटापा रोकने के लिए सभी कक्षाओं में हर दिन हो खेल का एक क्लास

किंग्स इलेवन पंजाब : 12 मैच, 6 जीत, 6 हार, 12 प्वाइंट्स, नेट रन रेट -0.518
शुरुआत में जिस तरह से किंग्स इलेवन पंजाब को जीत मिली थी, उससे वह प्ले ऑफ की सबसे मजबूत टीम मानी जा रही थी. लेकिन, पिछले तीन मुकाबलों में मिली हार के बाद वह पिछड़ते दिख रही है. बैंगलोर के खिलाफ 10 विकेटों से मिली हार ने पंजाब का रन रेट बिगाड़ कर रख दिया है. अगर पंजाब को प्ले ऑफ में पहुंचना है तो मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ होने वाले आखिरी दोनों मैच जीतनी होगी. खराब रन रेट के कारण पंजाब को दोनों मैच जीतने पर ही प्ले ऑफ में जगह मिलेगी.

मुंबई इंडियंस : 12 मैच, 5 जीत, 6 हार, 10 प्वाइंट्स, नेट रन रेट 0.405 
मुंबई के 12 मैचों में 10 प्वाइंट्स है, लेकिन पॉजिटिव रन रेट टीम के लिए राहत की बात है. पंजाब को मिली बैंगलोर से हार ने उसे एक और लाइफ लाइन दे दिया है. मुंबई अगर अपने दोनों मुकाबले पंजाब और दिल्ली के खिलाफ जीत जाती है तो वह आसानी से प्ले ऑफ में पहुंच जाएगी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na