बिहार में महागठबंधन को चलाने की पूरी कोशिश की मैंने : नीतीश

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 02/13/2018 - 09:22

Patna : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को दावा किया कि वह शुरूआत से ही जानते थे कि उनका लालू प्रसाद यादव के राजद के साथ गठबंधन डेढ़ साल से अधिक नहीं चल पायेगा. लेकिन उन्होंने महागठबंधन (जदयू-राजद-कांग्रेस) को चलाने के लिए अपनी ओर से पूरी कोशिश की थी.

इसे भी पढ़ें- जिस बीजेपी ने चारा घोटाले का पर्दाफाश किया था, अब उसी की सत्ता में रहते झारखंड में भी हो गया चारा घोटाला

नीतीश को पता था कि महागठबंधन डेढ़ साल से ज्यादा नहीं चल सकता

पटना के एक अणे मार्ग स्थित मुख्यमंत्री आवास में आयोजित लोकसंवाद के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने दावा किया कि जिस दिन महागठबंधन (जदयू—राजद—कांग्रेस) सरकार बनीं थी तो उन्होंने अपने करीबी लोगों से कहा था कि यह (महागठबंधन) डेढ़ साल से भी अधिक समय तक नहीं चलेगा. मैं यह शुरू से ही जानता था फिर भी 20 महीने तक इसे चलाया. वर्ष 2014 में लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद नीतीश और लालू ने कांग्रेस के साथ मिलकर महागठबंधन बनाया था और 2015 में बिहार विधानसभा चुनाव साथ लड़कर सत्ता में आये थे.

इसे भी पढ़ें- हज यात्रियों के लिए स्वतंत्र संस्था की मांग पर कोर्ट का आदेश, केंद्र शीघ्र स्पष्ट करे अपना नजरिया

राजद और कांग्रेस से नाता तोड़कर भाजपा में शामिल हुये थे नीतीश

पूर्व उपमुख्यमंत्री और लालू के छोटे पुत्र तेजस्वी प्रसाद यादव के खिलाफ रेलवे में होटल के बदले भूखंड मामले में सीबीआई द्वारा प्राथमिकी दर्ज किए जाने के बाद जदयू ने तेजस्वी से स्पष्टीकरण दिए जाने की मांग थी. राजद द्वारा इस मांग को ठुकरा दिए जाने पर नीतीश ने गत वर्ष जुलाई में महागठबंधन में शामिल राजद और कांग्रेस से नाता तोड़कर भाजपा के साथ मिलकर बिहार में राजग की नई सरकार बना ली थीं. जिसके बाद राजद और कांग्रेस ने नीतीश के इस कदम को जनादेश के साथ धोखा करने का आरोप लगाया था.

इसे भी पढ़ें- ग्रामीणों की इच्छाशक्ति से बनलोटवा गांव बना नशामुक्त व ओडीएफ, मगर सरकार नहीं दिखा रही इच्छाशक्ति

पलटू चाचा के दिमाग में पहले से ही जहर था : तेजस्वी

पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव ने नीतीश के इस बयान पर उन पर निशाना साधते हुए सोमवार को कहा कि अगर वह पहले से ही जानते थे कि महागठबंधन अधिक दिनों तक नहीं चलने वाला है तो उन्होंने गठबंधन क्यों किया था. नीतीश के इस बयान की आलोचना करते हुए तेजस्वी ने अपने जवाबी ट्वीट में कहा कि वही तो मैं शुरू से कह रहा हूँ कि तेजस्वी तो बहाना था. पलटू चाचा के दिमाग में पहले से ही जहर था.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

loading...
Loading...

NEWSWING VIDEO PLAYLIST (YOUTUBE VIDEO CHANNEL)