इधर लोगों को भीषण गर्मी से बचने के उपाय बता रहे मुख्यमंत्री, उधर ट्रैफिक पुलिस को खरीद कर पीना पड़  रहा पानी

Publisher NEWSWING DatePublished Fri, 05/11/2018 - 16:46

Ranchi : रांची में पारा चढ़ने के साथ शहर की यातायात व्यवस्था में तैनात पुलिस जवानों की परेशानी भी बढ़ गई है. चिलचिलाती धूप और गर्मी में चौक-चौराहों पर ड्यूटी करना इन जवानों के लिए असहनीय होता जा रहा है. हालांकि राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास स्वंय लोगों को भीषण गर्मी एवं लू से बचने के उपाय बता रहे हैं, जिसका प्रत्यक्ष प्रमाण फिरायलाल चौक पर लगा सरकारी विज्ञापन है. वहीं ड्यूटी पर तैनात इन जवानों के लिए कई जगह प्याऊ या ट्रैफिक बूथ की व्यवस्था भी नहीं है, या यूं कहें कि प्रशासन व रांची नगर निगम इस दिशा में कोई ध्यान नहीं दे रही है. दिन चढ़ने के साथ धूप भी चुभने लगी है. दोपहर के वक्त गर्म हवाएं भी चल रही हैं, लेकिन हमारे ट्रैफिक जवान इस कड़ी धूप में अपने कर्तव्य का निर्वहण कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें - लालू यादव को हाईकोर्ट से बड़ी राहत, इलाज के लिए मिली 6 हफ्ते की प्रोविजनल बेल

कई चौक-चौराहों पर शेड व प्याऊ की नहीं है पर्याप्त व्यवस्था

pic 4
फिरायालाल चौक स्थित ट्रैफिक पोस्ट

स्थिति को देखते हुए जब न्यूज विंग के संवाददाता नितेश ओझा ने मेन रोड स्थित फिरायालाल चौक पर तैनात ट्रैफिक पुलिस अफसर से बातचीत की तो नाम न लिखने की शर्त पर उन्होंने बताया कि इन दिनों तेज गर्मी के कारण उन्हें काफी समस्या का सामना करना पड़ रहा है. स्वयं हमारे मुख्यमंत्री रघुदास दास लू से बचने के लिए लोगों को कई उपाय बता रहे हैं, लेकिन हमारे लिए इस दिशा में कोई व्यवस्था नहीं की गई है. हमें स्वंय पानी खरीद कर पीना पड़ रहा है. कई चौक-चौराहों पर शेड व प्याऊ की पर्याप्त व्यवस्था नहीं की गई है. इस तेज गर्मी में हमारे स्वास्थ्य को लेकर प्रशासन को जागरुक होना चाहिए.

इसे भी पढ़ें - न्यायालय में ही पत्नी ने पति को जज के सामने पीटा, मेडिकल रिपोर्ट में हुई चोट की पुष्टि

pic 2
गाड़ीखाना चौक जहां गर्मी से बचने का जवान खुद कर रहे जुगाड़

छांव के लिए तरसते हैं ट्रैफिक जवान 

पुलिस कर्मियों के मुताबिक प्रशासन की तरफ से कई जगह उनके लिए पेयजल एवं तेज धूप से बचने के लिए शेड जैसी कोई व्यवस्था नहीं की गयी है. उनके जवान छांव के लिए तरसते हैं. तेज बारिश, आंधी के दौरान तो उन्हें काफी समस्या का सामना करना पड़ता है. गाड़ीखाना चौक, मेन रोड स्थित काली मंदिर चौक में यह स्थिति साफ देखी जा सकती है, जहां ट्रैफिक जवान छांव के लिए तरसते हैं. जवान अस्थायी जुगाड़ कर काम चला रहे है. हालांकि यातायात पुलिस द्वारा कई स्थानों जैसे कि कचहरी चौक, फिरायालाल चौक में ट्रैफिक बूथ की व्यवस्था की गई है, लेकिन शहर के अऩ्य स्थानों पर इसकी उचित व्यवस्था नहीं है. बता दें कि परेशानी झेलने वाले जवानों में महिला पुलिसकर्मी भी शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें - पलामू में गहराया जल संकट, सूखते हलक में तरावट लाने के लिए लोग नदी-नाले का गंदा पानी पीने को मजबूर

pic 3
ट्रैफिक एसपी कार्यालय के बाहर लगा प्याऊ

गर्मी से निजात पाने के लिए ट्रैफिक पुलिस करेगी पहल

स्थिति का अवलोकन करने पर पाया कि कचहरी रोड स्थित ट्रैफिक एसपी कार्यालय के बाहर एक प्याऊ की व्यवस्था तो की गई है, लेकिन वैसी जगह जहां ट्रैफिक जवान तेज गर्मी में चौक-चौराहों पर अपने कर्तव्य को निभा रहे हैं, वहां इन जवानों के लिए पेयजल या गर्मी से बचने के लिए कोई विशेष प्रबंध नहीं है. इस संदर्भ में जब ट्रैफिक एसपी संजय रंजन सिंह से बात की गई तो उन्होंने बताया कि उनके संझान में यह मामला सामने आया है. उनके मुताबिक जल्द ही एक एनजीओ के माध्यम में इन जवानों को पानी, ग्लूकोन-डी देने जैसी व्यवस्था पर पुलिस काम करने जा रही है. हालांकि इस एनजीओ के नाम पूछे जाने पर उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया.

इसे भी पढ़ें - पांकी विधायक बिटुट सिंह के खिलाफ एफआईआर, बीडीओ से कहा - तोरा गाड़ देबो हिंये बाउंडरी में, नखो मालूम तोरा हमर औकात

रांची नगर निगम भी तत्परता से कर रही कार्य

रांची नगर निगम इस दिशा में क्या कर रही है, पूछे जाने पर रांची नगर निगम के डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय ने बताया कि पिछले दिनों ही किशोरगंज स्थित कुछ जवानों से इस मुद्दे पर बात हुई है. जवानों ने बताया कि रांची नगर निगम भी इस दिशा में तत्परता से कार्य कर रही है. उन्होंने कहा कि हालांकि पूरा मामला ट्रैफिक पुलिस के अधीन है, लेकिन इस दिशा में निगम व ट्रैफिक पुलिस के बीच समन्वय बनाने का कार्य भी तेजी से किया जा रहा है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na