हजारीबाग : SISF के जवानों ने दो आदिवासी मजदूरों को पीटकर तोड़े उनके हाथ

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 05/14/2018 - 11:28

एनटीपीसी के पंकरी-बरवाडीह कोल माईंस परियोजना के त्रिवेणी सैनिक के मजदूर हैं दोनों, घटना के विरोध में मजदूरों का धरना

Hazaribag: एनटीपीसी के ठेकेदार त्रिवेणी सैनिक कंपनी के कोल माइंस में काम करने वाले मजदूरों की शनिवार की देर रात सुरक्षा में लगे एसआईएसएफ के जवानों ने बेरहमी से पिटाई कर दी. जिसमें दो मजदूरों का हाथ टूट गया. घायलों में इतिज निवासी मुकेश गंझु और उरूब निवासी मिथुन रवानी हैं, जिनके हाथ तोड़ दिए गए.  इस घटना से आक्रोशित मजदूर रविवार को आन्दोलन पर उतर आए और काम बंद कर दिया.  साइडिंग के पास सभी धरना पर बैठ गए.

इसे भी  पढ़ेंः  तो इसलिए आरईओ से हटाये गये आइएएस अविनाश कुमार 

मजदूरों ने आरोप लगाया कि एसआईएसएफ के जवान  नशे में थे. उन्होंने बेवजह मारपीट किया है.  पिटाई करने वालों में इंचार्ज  नवीन प्रकाश सिंह, चंद्रदेव यादव, बृज मिश्र, सुभाष सिंह की अहम भूमिका रही. आरोप है कि एसआईएसएफ के जवानों के साथ  कंपनी के द्वारा रखे गए बाहरी लठैत भी शामिल थे. लोगों ने कहा कि अगर उनके दर्द को नहीं समझा गया और दोषी पर कार्रवाई नहीं हुई तो वे एसपी से मिलेंगे और न्याय की गुहार लगाएंगे.  

इसे भी पढ़ेंः मुख्य सूचना आयुक्त का आदेश : NTPC जमीन अधिग्रहण से संबंधित दस्तावेज अधिवक्ता सत्य प्रकाश को दिखायें

इधर, इस घटना पर बजरंग दल के विभाग संयोजक संजय चौबे ने कहा कि त्रिवेणी सैनिक के लठैतों द्वारा बजरंग दल के कार्यकर्ता के साथ मारपीट की गई है.  हमारे कार्यकर्ता  स्थानीय मजदूरों के पर किये जा रहे अत्याचार को कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे. अगर दोषी पर कार्रवाई नहीं होती है तो यह घटना बड़े आंदोलन का रुख अख्तियार करेगा.  जिसका जिम्मेदार एनटीपीसी व त्रिवेणी सैनिक प्रबंधन होगा. लाठी के बल पर माइंस का संचालन उचित नहीं है. कंपनी बाहरी लठैतों को वापस करे.  धरनास्थल पर पहुंचे त्रिवेणी सैनिक के जीएम ए सुब्रमण्यम ने मजदूरों को वापस काम पर लौटने का दबाव बनाया. जीएम ने मजदूरोंं से कहा कि मारपीट एसआईएसएफ के जवानों ने की है, कंपनी के लोगों ने नहीं किया है. इसमें कंपनी का क्या दोष है. 

इसे भी पढ़ेंः क्या हजारीबाग पुलिस-प्रशासन एनटीपीसी के पक्ष में और विधायक व ग्रामीणों के खिलाफ पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर काम कर रही थी !

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

top story (position)
na