बचपन में सुना था, एक दिन के बादशाह ने चमड़े का सिक्का चलवाया था, रांची में वही होता दिख रहा है

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 05/16/2018 - 10:19
RP sahi
बचपन में एक कहानी सुनी थीः कि एक दिन के बादशाह ने चमड़े का सिक्का चलवाया था.  
उम्मीद नहीं थी कि एक स्वतंत्र देश में इस तरह की पुनरावृति देखने को मिलेगी. लेकिन रांची शहर में यह नित्य होने लगा है. सड़क पर चलते-चलते मुख्यमंत्री जी आदेश देकर मुड़ने वाले खुली जगहों (सड़क पर बने कट) और चौराहों को बंद करवा देते हैं. लोग परेशान होते रहते हैं. घंटों जाम में फंसते रहते हैं. कोई नहीं सुनता. और फिर कुछ दिन बाद नगर विकास मंत्री एक दिन टहलते हुए कट खोलने का आदेश दे देते हैं. 

जैसी सरकार चल रही है, उसमें हम नागरिक अपने अधिकारों की बात तो नहीं कर सकते, लेकिन हे राजाओं और दरबारियों. आपसे विनती है कि कृपया विषय में निपुण लोगों की सलाह लें.  आप बहुत ही शक्तिशाली हैं. क्योंकि आप राजशाही जैसे शासन के तंत्र हैं. लेकिन हमारा गला तो न घोंटें श्रीमान ! 

नगर विकास सचिव और उनके आर्किटेक्ट, एक एक्सपर्ट टाउन प्लानर की तरह सडकों और सड़क के किनारे पार्किंग पर आदेश दे देते हैं. इन लोगों को आर्किटेक्ट, टाउन प्लानर और ट्रैफिक प्लानर में अंतर कौन समझाए ? शहर में सड़क, भवन, पार्क, वाटर सबकी प्लानिंग तो निपुण टाउन प्लानर ही कर सकता है. उसके ही अनुरूप डिजाइनर सड़क बनाते हैं, आर्किटेक्ट भवन का नक्शा बनाता है और पानी या ड्रेन के पाइप भी उसी के अनुरूप डाले जाते हैं. 
ranchi
प्रभात खबर के 15 मई को हिंदी दैनिक प्रभात खबर में प्रकाशित नगर विकास मंत्री सीपी सिंह का बयान.

यहां तो (रांची और झारखंड के अन्य शहरों में) ग्रीन लैंड ( जयपाल सिंह स्टेडियम ) में इन्हीं लोगों और किसी आर्किटेक्ट महोदय ने दो-दो बार कंक्रीट के स्ट्रक्चर बना दिए.  न उन्हें मास्टर प्लान का ध्यान रहा और न उस स्ट्रक्चर का क्या उपयोग होगा उसका. एक फुड कोर्ट बना था. चार साल पहले से वह वैसे ही सड़ रहा है और अब वेंडर मार्केट भी बन गया. खेल के मैदान को तो आप लोग लील गए और बनते रहे शहर विकास विभाग. 

"Every time we witness an injustice and do not act, we train our character to be passive in its presence and thereby eventually lose all ability to defend ourselves and those we love."

आरपी शाही के फेसबुक वाल से साभार

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na