रांची-मुरी स्टेशन के पास चलती ट्रेन में युवती के साथ गैंग रेप, सीएम रघुवर दास बोले नहीं बख्शे जायेंगे दोषी

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 02/17/2018 - 10:56

Ranchi: रांची-मुरी स्टेशन के बीच चलती ट्रेन में युवती के साथ गैंग रेप की खबर ने सबको हिला कर रख दिया है. युवती दिल्ली से रांची आ रही थी. मामले में मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि एक बिटिया के साथ ऐसी दरिंदगी से वह बहुत आहत हैं. दोषियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जायेगी. घटना के बाद पीडित युवती का रांची के गुरूनानक अस्पताल में इलाज चल रहा है.घटना के संबंध में राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने ट्वीटर पर लिखा है कि दिल्ली से रांची आ रही ट्रेन में बिटिया के साथ हैवानियत की खबर से मन द्रवित है. बिटिया को हर संभव मेडिकल सुविधा सरकार उपलब्ध करायेगी. दोषियों को नहीं छोड़ा जायेगा. खबर के अनुसार ट्रेन में जब इस युवती के साथ यह घटना घटी बोगी में कोई पैंसेंजर नहीं था और न ही कोई सुरक्षा गार्ड था.

घटना के संबंध में राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने ट्वीटर पर लिखा है कि दिल्ली से रांची आ रही ट्रेन में बिटिया के साथ हैवानियत की खबर से मन द्रवित है. बिटिया को हर संभव मेडिकल सुविधा सरकार उपलब्ध करायेगी. दोषियों को नहीं छोड़ा जायेगा. खबर के अनुसार ट्रेन में जब इस युवती के साथ यह घटना घटी बोगी में कोई पैंसेंजर नहीं था और न ही कोई सुरक्षा गार्ड था. इसी बात का फायदा उठाकर युवकों ने युवती के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया. युवती रांची में कडरू स्थिति एक कोचिंग संस्थान में इंग्लिश स्पोकेन का क्लास करती है. इस घटना से वह इतनी अधिक आहत थी कि उसने जहर खा कर अपनी जान तक देने की कोशिश की.

इसे भी पढ़ेंः पांच हजार में हरियाणा में बेची गयी झारखंड की लड़की मुक्त कराई गयी, कई बार हुआ रेप

युवती ने क्या कहा बयान में जानें-

ईलाज के बाद थोड़ी बेहतर स्थिति में आने के बाद पीड़ित युवती ने पुलिस के सामने जो बयान दिया उसके अनुसार पांच फरवरी को वह रात दस बजे दिल्ली से झारखंड र्स्व्ण जयंती ट्रेन के कोच नंबर एस  थ्री के बर्थ नंबर 17 में सवार हुई थी. छह फरवरी को रांची स्टेशन से पहले करीब 12 बजे ट्रेन की बोगी पूरी तरह से खाली थी. वहां कोई नहीं था. लड़की के अनुसार अचानक दो युवक वहां आये और एक ने कपड़े से उसका मुंह दबा दिया और फिर दोनों ने उसके साथ दुष्कर्म किया. उसके बाद दोनों युवक रांची स्टेशन से पहले ही उतर कर भाग गये. पीड़ित युवती ने कहा घटना के बाद मैं सदमे में थी. किसी से कुछ नहीं बोल पायी. हॉस्टल आने के बाद भी कुछ समझ में नहीं आ रहा था इसलिए आठ फरवरी को जहर खा कर अपनी जान देने की कोशिश की. जिसके बाद मुझे अस्पताल में भर्ती कराया गया. अब हिम्मत जुटा कर पुलिस के सामने अपने साथ हुए दुष्कर्म के संबंध में बता पा रही हूं.

इसे भी पढ़ेंः आखिर क्यों हम अपने बच्चों को यौन शोषण से नहीं बचा पा रहे..?

आरोपियों को ढुंढने का पूरा प्रयास किया जा रहाः रेल डीएसपी किस्टोफर केरकेट्टा

युवती का बयान लेने के बाद चुटिया थाना पुलिस ने मामले को रांची जीआरपी को ट्रांसफर कर दिया है. रेल डीएसपी किस्टोफर केरकेट्टा के अनुसार मामले में केस दर्ज कर ली गयी है और जांच भी शुरू हो चुकी है. आरोपियों को ढुंढने का पूरा प्रयास किया जा रहा है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

बिहार के माथे पर एक और कलंक, चपरासी ने 8,000 रुपये में कबाड़ी को बेची थी 10वीं परीक्षा की कॉपियां

स्वच्छता में रांची को मिले सम्मान पर भाजपा सांसद ने ही उठाये सवाल, कहा – अच्छी नहीं है कचरा डंपिंग की व्यवस्था

तो क्या ऐसे 100 सीटें बढ़ायेगा रिम्स, न हॉस्टल बनकर तैयार, न सुरक्षा का कोई इंतजाम, निधि खरे ने भी लगायी फटकार

पत्थलगड़ी समर्थकों ने किया दुष्कर्म, फादर सहित दो गिरफ्तार, जांच जारीः एडीजी

स्वच्छता सर्वेक्षण की सिटीजन फीडबैक कैटेगरी में रांची को फर्स्ट पोजीशन, केंद्रीय मंत्री ने किया पुरस्कृत

J&K: बीजेपी विधायक की पत्रकारों को धमकी, कहा- खींचे अपनी एक लाइन

दुनिया की सबसे बड़ी ऑनलाइन मेगा परीक्षा कराने जा रही है रेलवे, डेढ़ लाख लोगों को मिलेगा रोजगार

“महिला सिपाही पिंकी का यौन शोषण करने वाले आरोपी को एसपी जया रॉय ने बचाया, बर्खास्त करें”

यूपीः भीषण सड़क हादसे में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत

सरकार जमीन अधिग्रहण करेगी और व्यापक जनहित नाम पर जमीन का उपयोग पूंजीपति करेगें : रश्मि कात्यायन

16 अधिकारियों का तबादला, अनिश गुप्ता बने रांची के एसएसपी, कुलदीप द्विवेदी गए चाईबासा