खबरें अदालत की : आर्म्स एक्ट के दोषी को पांच साल की सजा, नक्सली  प्रभु साहू का डिस्चार्ज पिटीशन खारिज

Publisher NEWSWING DatePublished Fri, 05/18/2018 - 20:38

अवैध हथियार रखने के आरोप में पांच साल की सजा

Ranchi : अपर न्यायायुक्त दिवाकर पांडे की अदालत में अवैध हथियार रखने के आरोपी सम्राट ग्रुप के सदस्य डीरा मुंडा को पांच साल की सजा सुनाई है. अदालत ने डीरा पर आठ हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है जुर्माना नहीं देने पर उसे छह माह अतिरिक्त सजा काटनी होगी. यह मामला लापुंग थाना कांड संख्या 24/16 से संबंधित है. 11 जुलाई 2016 को एसएसपी को मिली गुप्त सूचना के आधार पर लापुंग थाना क्षेत्र के मुरुप गांव में जानकारी मिली थी की सम्राट गिरोह के अपराधी किसी घटना को अंजाम देने की योजना बना रहे हैं. एसएसपी के नेतृत्व में टीम गठित करके छापेमारी की गई. छापेमारी के दौरान गांव में अपराधियों को योजना बनाते देखा गयाजिसके बाद अभियुक्त डीरा पुलिस को देख पूर्व दिशा की ओर भागने लगा. पुलिस ने दौड़ाकर उसे पकड़ा. तलाशी में उसके पास से नाइन एमएम का एक लोडेड पिस्टल छह जिंदा कारतूस और दो मोबाइल फोन जप्त किया गया. अदालत में डीरा पर आईपीसी की धारा 25, 18 और 26 के तहत सजा सुनाई. इस मामले में अभियोजन पक्ष की ओर से पांच लोगों की गवाही दर्ज कराई गई.

इसे भी पढ़ें- हाई कोर्ट ने खारिज की छात्रों की याचिका, छठी सिविल सेवा मुख्य परीक्षा लेने का दिया आदेश    

नक्सली प्रभु साहू का डिस्चार्ज पिटीशन खारिज

इधर, एनआईए के विशेष न्यायाधीश नवनीत कुमार की अदालत ने नक्सली प्रभु प्रसाद साहू का डिस्चार्ज पिटीशन को शुक्रवार को खारिज कर दिया. इस मामले में अभियुक्तों की पेशी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कराई गई. मामले में आरोपी के वकील की ओर से बहस के बाद अदालत ने पिटीशन को खारिज कर दिया. गौरतलब है कि 30 जुलाई 2017 को रांची के चुटिया में लेवी वसूली के 25 लाख रुपये और 474 ग्राम सोने की बरामदगी मामले में बुरेदी नारायणप्रभु प्रसाद साहू व सत्य नारायण रेड्डी सहित अन्य आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी. जिसकी जांच एनआईए को सौंपी गई थी.

इसे भी पढ़ें- पत्रकार की संदेहास्पद मौत का मामला : पत्नी ने दर्ज कराया हत्या का मुकदमा, एसपी ने गठित की एसआईटी     

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na