शिबू सोरेन के आवास पर दावत-ए-इफ्तार, विपक्षी एकजुटता का कलेवर दिखा, 2019 में भाजपा को पटखनी देने के बुने गये सपने

Publisher NEWSWING DatePublished Sun, 06/10/2018 - 20:52

Ranchi  :  झारखंड में विपक्षी एकजुटता की तस्वीर एक बार फिर दिखी. मौका था  राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन के आवास पर रविवार की शाम इफ्तार के एहतमाम का. दावते इफ्तार में झाविमो से पार्टी सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी, कांग्रेस से पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय, वामदल से केडी सिंह और भुनेश्वर केवट,  राजद से मनोज पांडे ने शिरकत की. लेकिन सबके निशाने पर केंद् व राज्यर की भाजपा सरकार ही रही. इन सबके बीच जो दूसरी तस्वीर उभर कर सामने आयी, वह आपसी समरसता और सद्भभाव की थी. मोरहबादी मैदान स्थित गुरु जी यानी शिबू सोरेन के आवास पर इफ्तार पार्टी का हर बार की तरह इस वर्ष भी आयोजन किया गया, जहां सभी विपक्षी पार्टियों के नेतागण शामिल हुए. इफ्तार से पहले नेताओं और कार्यकर्ताओं ने हाथ उठाकर राज्य और देश तरक्की के लिए दुआएं मांगी. अमन-चैन के लिए माहे रमजान का हवाला देकर अल्लाह से दरख्वास्त की और एकजुट रहने की बात की.

विपक्षी एकजुटता के साथ दावते इफ्तार में पहुंचे सभी पार्टी के नेता

इफ्तार के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने कहा कि रमजान के महीने में दावत-ए-इफ्तार का आयोजन विभिन्न संगठनों और दलों की ओर से किया गया. इस क्रम में आज झारखंड मुक्ति मोर्चा की ओर से गुरु जी के आवास पर आयोजन किया गया है. आज के इस आयोजन में सभी दलों ने एकजुटता के साथ हिस्सा लिया है. उन्होंने कहा कि जो सामाजिक समरसता का इतिहास झारखंड में रहा है, उस रिश्ते को और बल देने का प्रयास हम लोगों ने किया है. इसमें कांग्रेस, झारखंड विकास मोर्चा, राष्ट्रीय जनता दल, वामदल और झारखंड मुक्ति मोर्चा के सभी सदस्य पूरी एकजुटता के साथ रमजान के इस पावन महीने को खुशनुमा बनाने का प्रयास करते हुए आगे बढ़ रहे हैं. हेमंत सोरेन ने कहा कि आज की इस घड़ी में एकता और ताकत को और बल देने के लिए हमारे साथ गुरु जी भी मौजूद है. इससे हमारी ताकत और बढ़ेगी. उन्होंने कहा कि जिस तरह से विगत तीन-चार सालों में देश के अंदर और विभिन्न राज्यों के अंदर सांप्रदायिक तनाव फैलाने का प्रयास हो रहा है, वो आने वाले समय में निश्चित रूप से विफल होंगे. सौहार्द्र और ताकत के साथ मजबूती के साथ एकता कायम है.

ताल ठोंक कर उतरेंगे चुनावी मैदान में

भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री राम माधव के बयान पर हेमंत सोरेन ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा  की हवा में बात करने से यही सब होगा. 2019 के चुनाव में पता चलेगा कि भारतीय जनता पार्टी 12 सीट जीतेगी या फिर शून्य पर ही सिमट कर रह जायेगी. हम लोग हवा में बात नहीं करते हैं. अभी हुए उपचुनाव में आपने देखा है. ताल ठोंक कर, लंगोट बांधकर सड़क पर उतरेंगे. अब इनकी चतुराई और चोरी पकड़ी जा चुकी है, लुटेरे पकड़े जा चुके हैं. जब तक सत्ता में हैं, सुरक्षित हैं, सत्ता के बाहर आते ही इनका जो हश्र होगा, इस डर की आवाज उनकी अंतरात्मा में गूंज रही है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

top story (position)
na
7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

बिहार के माथे पर एक और कलंक, चपरासी ने 8,000 रुपये में कबाड़ी को बेची थी 10वीं परीक्षा की कॉपियां

स्वच्छता में रांची को मिले सम्मान पर भाजपा सांसद ने ही उठाये सवाल, कहा – अच्छी नहीं है कचरा डंपिंग की व्यवस्था

तो क्या ऐसे 100 सीटें बढ़ायेगा रिम्स, न हॉस्टल बनकर तैयार, न सुरक्षा का कोई इंतजाम, निधि खरे ने भी लगायी फटकार

पत्थलगड़ी समर्थकों ने किया दुष्कर्म, फादर सहित दो गिरफ्तार, जांच जारीः एडीजी

स्वच्छता सर्वेक्षण की सिटीजन फीडबैक कैटेगरी में रांची को फर्स्ट पोजीशन, केंद्रीय मंत्री ने किया पुरस्कृत

J&K: बीजेपी विधायक की पत्रकारों को धमकी, कहा- खींचे अपनी एक लाइन

दुनिया की सबसे बड़ी ऑनलाइन मेगा परीक्षा कराने जा रही है रेलवे, डेढ़ लाख लोगों को मिलेगा रोजगार

“महिला सिपाही पिंकी का यौन शोषण करने वाले आरोपी को एसपी जया रॉय ने बचाया, बर्खास्त करें”

यूपीः भीषण सड़क हादसे में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत

सरकार जमीन अधिग्रहण करेगी और व्यापक जनहित नाम पर जमीन का उपयोग पूंजीपति करेगें : रश्मि कात्यायन

16 अधिकारियों का तबादला, अनिश गुप्ता बने रांची के एसएसपी, कुलदीप द्विवेदी गए चाईबासा