डालटनगंज : प्रताड़ना से परेशान महिला ने ट्रेन के आगे कूदकर दे दी जान

Publisher NEWSWING DatePublished Sun, 03/18/2018 - 17:56

Daltonganj : पति की प्रताड़ना झेल रही महिला ने आत्महत्या करने के लिए पहले अपने हाथ की नस काटी और जब बच गयी तो ट्रेन के आगे कूदकर जान दे दी. महिला की पहचान रेहला के गोदरमा निवासी देवेन्द्र तिवारी की पत्नी सुनीता देवी के रूप में हुई है. महिला का शव डालटनगंज रेलवे स्टेशन के समीप रेलवे लाइन से बरामद किय गया है.

इसे भी पढ़ें - पत्थलगड़ी अभियान का मास्टर माइंड विजय कुजूर अपने सहयोगी के साथ दिल्ली से गिरफ्तार

इसे भी पढ़ें - एसडीओ ने अवैध रूप से चल रहे बिरसा ब्लड बैंक को सील किया, आठ गिरफ्तार

इसे भी पढ़ें - गुमला : भाजपा प्रखंड अध्यक्ष विक्की साहू की हत्या, अपराधियों ने पहले मारी गोली, फिर भुजाली से काट डाला

कद छोटा होने पर झेल रही थी प्रताड़ना

सुनीता शहरी क्षेत्र के रेड़मा में रह रही थी. उसका पति डालटनगंज से रांची के बीच चलने वाली अर्श बस का चालक है. सुनीता की कद से नाटी थी, जिस कारण उसे हमेशा प्रताड़ना झेलनी पड़ती थी. परिजनों का आरोप है कि पति ही उसे कद छोटा होने पर प्रताड़ित करता था. रोज-रोज के तानों से तंग महिला मानसिक रूप से विक्षिप्त हो गयी थी. परिजनों ने यह भी बताया कि शनिवार को सुनीता ने आत्महत्या करने के लिए पहले अपने हाथ की नस काट ली थी. आनन-फानन में उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी जान बच गयी. ठीक होने के बाद जब सुनीता अपने घर आयी तो उसने परिजनों को फोन कर बताया कि वह आत्महत्या कर लेगी.

इसे भी पढ़ें - सुरक्षा बलों और माओवादियों की लड़ाई का दंश झेल रहे बुढ़ा पहाड़ पर बसे गांव के ग्रामीण

बच्चे के साथ रात को सोयी थी, सुबह रेलवे ट्रैक पर मिली लाश

रविवार की रात वह अपने बच्चे के साथ सोयी, लेकिन सुबह में वह गायब मिली. बच्चा जब अपनी मां को नहीं देखा तो रोने लगा. बच्चे की आवाज सुनकर अन्य लोग आ गए और महिला की छानबीन की तो उसका शव रेलवे लाइन पर पड़ा मिला. पुलिस शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल में भेज दिया है. साथ ही मामले की छानबीन कर रही है.

 न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Special Category
City List of Jharkhand
loading...
Loading...