s4

 

बनते ही कोयलांचल यूनिवर्सिटी विवादों में, डीन की नियुक्ति का विरोध, नियमावली को दरकिनार कर डीन बनाने का प्री-नोटिफिकेशन जारी

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 04/14/2018 - 19:38

Ranchi : एक अप्रैल से झारखंड में एक और यूनिवर्सिटी का नाम जूड़ गया है. बिनोद बिहारी महतो कोयलांचल यूनिवर्सिटी धनबाद में होगा. बनने के तुरंत बाद ये विवि सुर्खियों में आ गया है. विवि के डीन और एचओडी के पदों पर नियुक्ति का मामला विवादों में आ गया है. डीन के पद के लिए जारी प्री नोटिफिकेशन पर जिस नाम को वरीयता दे दी गई है, उसका पीके राय कॉलेज के गणित विभाग के विभागाध्यक्ष ने विरोध किया है और नियमावली के हिसाब से अपने को वरीयता देने की मांग की है. साथ ही शिक्षक संघों ने भी अपना आपत्ति पत्र विवि के रजिस्ट्रार को सौंप दिया है.

इसे भी देखें- सिल्‍ली उपचुनाव का संग्राम : सुदेश महतो के खिलाफ मैदान में उतरेंगी अमित महतो की पत्‍नी सीमा महतो 

क्या है मामला

विश्व विद्यालय नियमावली के अनुसार देवनागरी वर्णमाला में जिस विभाग का नाम पहले आता है, नए विवि में उसी विभाग के सबसे सीनियर शिक्षक को अपने संकाय का डीन बनने का मौका मिलता है. बिनोद बिहारी महतो कोयलांचल विवि के डीन और एचओडी के प्री नोटिफिकेशन में डॉ बीके सिन्हा का नाम विज्ञान संकाय के एचओडी के रूप में शामिल है वे जूलॉजी विभाग के हैं, जबकि गणित वर्णमाला के हिसाब से पहले आता है, ऐसा दावा पीके राय मेमोरियल कॉलेज के गणित विभाग के विभागाध्यक्ष ने विवि प्रबंधन के पास पेश किया है.

इसे भी देखें- सुदेश सिर्फ सिल्ली तक सिमटे, ज्यादातर नगर निकाय चुनाव के प्रत्याशी हैं नाराज, पार्टी की मदद के बिना लड़ रहे हैं चुनाव

क्या कहते हैं प्रोफेसर्स

प्रोफेसरों का कहना है कि यूजीसी के नियम का उल्लंघन किया जा रहा है. झारखंड के किसी भी विवि में सामान्य कॉलेजों के प्राचार्यों को डीन नहीं बनाया गया है. बीबीएमकेयू के अधिकारी यह बताएं कि विनोबा भावे विवि में ही क्या प्राचार्य को डीन बनाया गया है. उसी विवि से अलग होकर इस विवि की स्थापना हुई है. गुरुवार को कई कॉलेजों में कॉलेज शिक्षक संघों ने बैठक की है. शिक्षकों का कहना है कि विवि कार्यालय धनबाद में रजिस्ट्रार को इस संबंध में आपत्ति से संबंधित पत्र दिया है. सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि विवि में सबसे पहले विभागाध्यक्ष की नियुक्ति होती है. विभागाध्यक्षों में से ही सीनियर शिक्षक डीन बनाए जाते हैं.

इसे भी देखें- रिम्स में मरीज के परिजनों और जूनियर डॉक्टरों के बीच जमकर मारपीट, डॉक्टर का टूटा हाथ

मानकों की जांच के बाद ही एचओडी और डीन का होगा चयन

बीबीएमकेयू के डीन और एचओडी के लिए जारी किए गए नोटिफिकेशन पर दस शिक्षकों ने अपना दावा रखा है. डीन पद के लिए तीन शिक्षकों ने अपना दावा पेश किया है. कुछ शिक्षक ऐसे भी हैं, जिन्होंने विवि का विभागाध्यक्ष बनने से इंकार कर दिया है. प्री नोटिफिकेशन में उनका नाम एचओडी की लिस्ट में शामिल किया गया था. विवि प्रशासन अब मानकों की जांच करने के बाद ही एचओडी और डीन का चयन करेगा.

तीन शिक्षक हैं दावेदार 

अपने दावा के संबंध में डॉ विजय कुमार ने बताया कि डीन का पद एक रोटेशनल पद है. संबंधित संकाय के सभी विभागों के एचओडी को बारी- बारी से इस पद पर नियुक्त होते हैं. इनकी नियुक्ति के लिए देवनागरी वर्णमाला के क्रम को फॉलो किया जाता है. विदित हो कि डॉ एसकेएल दास, डॉ बीएन सिंह, डॉ विजय कुमार डीन पद के दावेदार हैं. 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.                                                                      

o4

 

TOP STORY

कोलंबिया ने तोड़ा पोलैंड का दिल, कुआडराडो और मिना चमके

अवैध कोयला कारोबिरियों के लिये सेफ जोन बना झरिया-बलियापुर रोड

कश्मीर : भाजपा के विधायक पर पूर्व सैन्यकर्मी की बेटी का अपहरण करने का आरोप

जॉर्ज जोनास किडो का आरोप- पत्थलगड़ी समर्थकों को बदनाम करने के लिए रेप केस में डाला गया नाम

बड़े आंदोलन की सुगबुगाहट, ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंचने लगी भूमि अधिग्रहण कानून के विरोध की आग

क्या 2019 चुनाव में मुख्यमंत्री रघुवर दास नहीं मांगेगे वोट !

बिहार के माथे पर एक और कलंक, चपरासी ने 8,000 रुपये में कबाड़ी को बेची थी 10वीं परीक्षा की कॉपियां

स्वच्छता में रांची को मिले सम्मान पर भाजपा सांसद ने ही उठाये सवाल, कहा – अच्छी नहीं है कचरा डंपिंग की व्यवस्था

तो क्या ऐसे 100 सीटें बढ़ायेगा रिम्स, न हॉस्टल बनकर तैयार, न सुरक्षा का कोई इंतजाम, निधि खरे ने भी लगायी फटकार

पत्थलगड़ी समर्थकों ने किया दुष्कर्म, फादर सहित दो गिरफ्तार, जांच जारीः एडीजी

स्वच्छता सर्वेक्षण की सिटीजन फीडबैक कैटेगरी में रांची को फर्स्ट पोजीशन, केंद्रीय मंत्री ने किया पुरस्कृत