मुख्यमंत्री ने अपने ही बाडीगार्ड को सरेआम मारा थप्पड़, वीडियो वायरल, कांग्रेस ने की कार्रवाई की मांग

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 01/16/2018 - 16:24

Dhar: अक्सर शांत और संयमित दिखने वाले मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भारी भीड़ के बीच अपना आपा खो दिया और अपने ही बाडीगार्ड को थप्पड़ जड़ दिया. घटना धार जिले के सरदारपुर की है. मुख्यमंत्री यहां नगर निकाय चुनाव के प्रचार के लिए पहुंचे थे. तभी रोड शो के दौरान शिवराज सिंह चौहान के सामने उनका बॉडीगार्ड आ गया. जिसे उन्होंने थप्पड़ जड़ दिया. इतना ही नहीं उसे खींच कर अपने आगे से हटा दिया. दरअसल 14 जनवरी सरदारपुर नगर परिषद चुनाव के सिलसिले में हुई रैली के दौरान बॉडीगार्ड भीड़ को कंट्रोल करने के दौरान बार-बार सीएम के सामने आ रहा था. सीएम ने उसे थोड़ा दूर रहने के निर्देश भी दिए, लेकिन भीड़ इतनी ज्यादा थी को ये बाडीगार्ड ना भीड़ रोक पा रहा था और ना ही सीएम को अलग कर पा रहा था. इसी से नाराज सीएम शिवराज ने उसे थप्पड़ जड़ दिया.

इसे भी पढ़ेंः लातेहार : चेकिंग करने पहुंचे डीटीओ के साथ बीस सूत्री उपाध्यक्ष ने की मारपीट और फाड़े कपड़े (देखें वीडियो)

कैमरे में कैद हो गयी मुख्यमंत्री की तुनकमिजाजी

यह पूरी घटना चुनावी रैली के दौरान हुई. सीएम रैली में भीड़ के बीच से तेजी से आगे बढ़ रहे थे. भीड़ काफी थी उनसे मिलने वाले और समर्थकों का हुजूम लगा हुआ था. जब बाडीगार्ड भीड़ को कंट्रोल करने में नाकाम साबित हुआ तो सीएम को गुस्सा आ  गया. हालांकि मुख्यमंत्री की ये तुनकमिजाजी कैमरे में कैद हो गयी. इसके बाद यह वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया.  सोशल साइट यूजर्स ने इस वीडियो को लेकर सीएम की कड़ी निंदा की. लोगों ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीवीआई कल्चर खत्म करना चाहते हैं, लेकिन मुख्यमंत्री अपने ही बॉडीगार्ड को थप्पड़ जड़ रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंः बेहोशी की हालत में मिले लापता प्रवीण तोगड़िया, रोते हुए कहाः मेरा एनकाउंटर कराने की थी साजिश

कांग्रेस ने की मुकदमा दर्ज करने की मांग

मध्य प्रदेश कांग्रेस के नेता केके मिश्रा ने सीएम शिवराज के खिलाफ धारा-332 और 353 के तहत मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग की है. उन्होंने कहा कि दो दिन पहले ही इंदौर की एक अदालत ने सब इंस्पेक्टर को थप्पड़ जड़ने के मामले में दो साल कैद की सजा सुनाई थी. ऐसे में इन्हीं धाराओं के तहत सीएम शिवराज पर भी कार्रवाई हो.

इसे भी पढ़ेंः सुप्नीम कोर्ट का महाराष्ट्र सरकार को आदेश, जस्टिस लोया की मौत संबंधी रिपोर्ट याचिकाकर्ताओं को सौंपे

पहले भी बाडीगार्ड को डांटते फोटो हो चुका है वायरल

यह पहला मामला नहीं है जब मुख्यमंत्री शिवराज का बॉडीगार्ड के साथ अभद्र व्यवहार करते हुए वीडियो वायरल हुआ है. इसके पहले भी एक किसान सम्मलेन के दौरान शिवराज का अपने बॉडीगार्ड को डांटते हुए वीडियो वायरल हुआ था. 2015 में बाढ़ पीड़ितों से मिलने के दौरान वो पुलिसकर्मियों के कन्धों पर बैठे नजर आए थे. इस वीडियो के सामने आने के बाद काफी हंगामा हुआ था.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Main Top Slide
loading...
Loading...

NEWSWING VIDEO PLAYLIST (YOUTUBE VIDEO CHANNEL)