चतरा : अवैध नर्सिंग होम के खिलाफ चला विशेष छापामारी अभियान, सात नर्सिंग होम सील, झोला छाप डॉक्टरों की दुकानदारी बंद

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 05/12/2018 - 21:33

Chatra : अवैध क्लीनिक संचालित कर झोला छाप डॉक्टरों ने अबतक जिले में सैकड़ों लोगों को मौत की आगोश में भेज दिया है. कुछ मामले उजागर होते हैं और कुछ मामले में गरीब परिवार को पता ही नहीं चलता है कि पीड़ित की मौत का कारण ये झोला छाप डॉक्टर थे. मगर इन झोला छाप डॉक्टरों की गलत इलाज की वजह से सैकड़ो लोग मौत को गले लगा चुके हैं.

लगातार इस तरह के मामले सामने आने के बाद शनिवार को स्पेशल टास्क फोर्स की टीम ने चतरा अनुमंडल क्षेत्र में संचालित अवैध नर्सिंग होम के खिलाफ विशेष छापामारी अभियान चलाया. क्लीनिकल इस्टेब्लिशमेंट एक्ट के तहत गठित टास्क फोर्स की टीम में शामिल अनुमंडल पदाधिकारी राजीव कुमार चिकित्सा पदाधिकारी डॉक्टर प्रवीण कुमार व अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी ज्ञानरंजन की संयुक्त टीम ने झोला छाप डॉक्टरों के फर्जी नर्सिंग होम की जांच की. जांच के दौरान क्लीनिकल इस्टेब्लिशमेंट एक्ट की अवहेलना करने वाले सात अवैध नर्सिंग होम को टीम ने सील कर दिया. अनुमंडल पदाधिकारी राजीव कुमार व चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. प्रवीण कुमार ने बताया कि कुल आठ क्लीनिकों की जांच की गई. जांच के दौरान सात क्लीनिक अवैध रूप से संचालित थे. इन क्लीनिक के डॉक्टरों के पास न तो डिग्री थी और न ही क्लीनिक चलाने संबंधी कोई कागजात. ऐसे में उन सभी क्लीनिक को सील कर दिया गया.

इसे भी पढ़ेंः  चतरा : पहले घूस लेने के आरोप में जेल गये थे मुखिया, छूटते ही महिला संग रंगरलिया मनाते पकड़ाये

अवैध नर्सिंग होम के खिलाफ लगातार चलेगा अभियान

टीम में शामिल अधिकारियों ने बताया कि फर्जी क्लीनिक संचालित कर आम लोगों की जान के साथ खुलेआम खिलवाड़ करने वाले झोला छाप डॉक्टरों के विरुद्ध नियमित अभियान चलेगा. पहले चरण में सात क्लीनिकों को सील किया गया है. यह अभियान निरंतर जारी रहेगा. अभियान के दौरान वशिष्ठ नगर जोरी थाना के अधिकारी व जवान भी टीम के साथ मौके पर मौजूद थे.

इसे भी पढ़ेंः इंडियन ऑयल डिपो के 30 साल पुराने मजदूर अचानक हटाए गए, आक्रोशित मजदूरों ने परिवार सहित कंपनी का मेन गेट किया जाम

इन क्लीनिकों को किया गया सील

आरोग्य सेवा सदन जोरी, फ्रैंक क्लीनिक जोरी, डॉ. जयराम विश्वकर्मा, डॉ. गुलाम सरवर, प्रतापपुर मोड़ के समीप संचालित डॉ. एसके पाठक, चांद क्लीनिक जोरी व मां काली क्लीनिक जोरी का नाम शामिल है.

na