CWG 2018: नो नीडल पॉलिसी का दो भारतीय एथलीट ने किया उल्लंघन, AFI करेगा मामले की जांच

Publisher NEWSWING DatePublished Fri, 04/13/2018 - 09:42

Gold Coast : राष्ट्रमंडल खेलों की नो नीडल पालिसीका उल्लंघन करने की वजह से खेलों से बाहर हुए दोनों भारतीय एथलीटों पर एएफआई भी जांच के बाद प्रतिबंध लगाएगा. रेसवाकर केटी इरफान और त्रिकूद खिलाड़ी वी राकेश बाबू को खेलों से बाहर करके स्वदेश लौटने को कहा गया क्योंकि वे खेलगांव में उनके बेडरूम से सुइयां मिलने का कारण स्पष्ट नहीं कर सके. दोनों ने पूछताछ के दौरान खूद को बेकसूर बताया लेकिन राष्ट्रमंडल खेल महासंघ अदालत ने उनकी दलील को अविश्वसनीय और कपटपूर्ण बताया.

इसे भी पढ़ें: CWG 2018: निशानेबाजी में तेजस्विनी सावंत ने भारत को दिलाया गोल्डेन मेडल,अंजुम मुद्गल ने सिल्वर मेडल

खिलाड़ियों ने कहा गलती से सुई हमारे  बैग में रह गई

भारतीय एथलेटिक्स महासंघ के सचिव सी के वाल्सन ने कहा कि एएफआई भी उन्हें सजा देगा. यह हमारे लिये शर्मिंदगी की बात है. खेल पूरे होने के बाद मामले की जांच की जायेगी और एक समिति का गठन किया जायेगा. वाल्सन ने कहा कि खिलाड़ियों का कहना है कि वे बेकसूर हैं और उन्होंने पटियाला में खेलों के लिये रवाना होने से पहले शायद अपने बैग अच्छी तरह से चेक नहीं किये थे. उन्होंने कहा कि  खिलाड़ियों का कहना है कि गलती से सुई उनके बैग में रह गई जब उन्होंने खेलों के लिये रवाना होने से पहले पैकिंग की थी. यहां आने पर बैग में सुई मिलने के बाद उन्होंने उसे कप में रख दिया क्योंकि उसे फेंका नहीं जा सकता.

इसे भी पढ़ें: CWG 2018: कुश्ती में पहलवानों का कमाल, सुशील और राहुल ने भारत को दिलाया गोल्ड

टेस्ट में दोनों खिलाड़ियों के रिपोर्ट आये थे निगेटिव

वाल्सन ने कहा कि हम जांच करेंगे कि इन दावों में कितनी सच्चाई है. वाल्सन ने कहा कि डोपिंग का कोई मसला नहीं है. दोनों के टेस्ट निगेटिव थे. लेकिन यह गलती तो है ही क्योंकि भारतीय खिलाड़ियों को बार-बार इसके बारे में जानकारी दी गई थी. वे खेलगांव से चले गए हैं और जल्दी ही भारत रवाना होंगे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

loading...
Loading...