गढ़वा के खजरी गांव में सीएम रघुवर ने किया आह्वान, “स्वच्छ भारत मिशन के लक्ष्य को करना है हासिल”

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 04/18/2018 - 21:54

Garhwa : झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने गढ़वा में कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के सपने को साकार करना है. स्वच्छ झारखण्ड का निर्माण करके ही स्वच्छ भारत की परिकल्पना को पूरा कर सकेंगे. राज्य सरकार इस मिशन को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध प्रयास कर रही है. हम सब संकल्प लें कि 02 अक्टूबर 2018 तक राज्य को खुले से शौचमुक्त (ओडीएफ) बनाएं और महात्मा गांधी के चरणों में स्वच्छ झारखण्ड समर्पित करें. उन्होंने कहा कि जनभागीदारी के बल पर ही यह कार्य अबतक 75 प्रतिशत सफल हो पाया है. अक्टूबर तक शत प्रतिशत कार्य पूरा करना हमसबों का लक्ष्य होना चाहिए. ग्राम स्वराज अभियान के 05 मई 2018 में समाप्ति के अवसर तक अनुसूचित जाति बाहुल्य राज्य के चिन्हित 252 गांव में शत प्रतिशत लक्ष्य पूरा करें. ये बातें मुख्यमंत्री ने गढ़वा के खजरी ग्राम में ग्राम स्वराज अभियान के तहत स्वच्छ भारत दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही.

जनशक्ति ही सरकार की शक्ति  : रघुवर दास 

मुख्यमंत्री ने जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि जनशक्ति ही सरकार की शक्ति है. स्वच्छ भारत मिशन कार्यक्रम को सफलता पूर्वक लागू करने में झारखण्ड प्रथम स्थान पर है. वर्ष 2020 तक राज्य के हर घर तक पाईप लाईन के माध्यम से शुद्ध पेयजल आपूर्ति करना सरकार की प्राथमिकता है. इस कार्य को पूरा करने के लिए क्रमबद्ध प्रयास किया जा रहा है. राज्य के सुदूरवर्ती एवं पहाड़ी क्षेत्रों में बसे गांवों में भी सरकार की सभी लोक कल्याणकारी योजनाओं को धरातल पर उतारना है.

इसे भी देखें- एमबीबीएस और पीजी करने के दौरान पढ़ाई बीच में छोड़ी तो लगेगा 20-30 लाख जुर्माना, पीजी के बाद तीन साल प्रैक्टिस भी जरूरी

ौौ
सहायता राशि का चेक सौंपते सीएम

झारखण्ड में दीदियां रच रहीं इतिहास

सीएम ने महिला स्वयं सहायता समूहों की तारीफ करते हुए कहा कि दीदियों द्वारा राज्य में बहुत ही अच्छा कार्य किया जा रहा है. शौचालय निर्माण कार्य में राज्य की दीदियों ने मिसाल कायम की है. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने खजूरी गांव के उरांव टोला में शौचालय का निरीक्षण भी किया.

गांव के लोग ही विकास की रूपरेखा तैयार करेंगे : सीएम

मुख्यमंत्री ने कहा कि अब गांव के लोग ही गांव के विकास की रूपरेखा तैयार करेंगे. सभी गांवों में ग्राम विकास समिति का गठन किया जा रहा है. गांव के विकास के लिए आवंटित राशि अब सीधे ग्राम विकास समिति को दिये जाएंगे. गांव के लोग डोभा, कुआं, तालाब, कृषि कार्य से संबंधित योजनाएं एवं अन्य छोटी-छोटी विकास के कार्यों का संचालन समिति के माध्यम से कर पायेंगे.

इसे भी देखें- "नागेश्वर फिल्म प्रॉडक्शन" पर छात्रा ने लगाया फ्रॉड का आरोप : कहा, “पहले विनर घोषित किया, फिर बदल दिया नाम, पूछने पर की बदसलूकी”

17.53 करोड़ की योजनाओं की रखी आधारशिला

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 14.97 करोड़ की परिसम्पतियों का लाभूकों के बीच वितरण किया तथा 17.53 करोड़ रूपये की नई योजनाओं की आधारशिला रखी. मुख्यमंत्री ने महिला सहायता समूह पूजा गुलाब सरस्वती सूर्यमुखी को एक करोड़ राशि प्रदान की. स्वच्छ भारत मिशन के तहत ग्रामीण क्षेत्र में बेहतर कार्य करने वालों को मुख्यमंत्री ने पुरस्कृत भी किया. मौके पर पलामू सांसद श्री बी.डी.राम, स्थानीय विधायक श्री सत्येन्द्र नाथ तिवारी, पेयजल स्वच्छता विभाग के केंद्रीय सचिव श्री परमेश्वरन अय्यर, मुख्य सचिव झारखण्ड श्री सुधीर त्रिपाठी, पेयजल एवं स्वच्छता सचिव श्रीमती अराधना पटनायक सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.