बिहार में फेल होती शराबबंदी, छह लाख के अवैध शराब के साथ 12 गिरफ्तार

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 03/12/2018 - 08:51

Bhagalpur : बिहार के भागलपुर जिले के गोपालपुर गांव के निकट से एक ट्रक से पुलिस ने रविवार को छह लाख रूपये से अधिक मूल्य के 450 कार्टन अवैध विदेशी शराब जब्त की और 12 लोगों को गिरफ्तार ​किया. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार ने बताया कि गिरफ्तार लोगों में मधुबनी, मुंगेर और बेगूसराय के तीन शराब माफिया भी शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें- बीजेपी लीडर के मर्डर को लेकर एसएसपी ने बनायी स्पेशल टास्क फोर्स, टीम में ATS और CID भी शामिल

शराब के साथ एक ट्रक, चार अन्य वाहन व एक मोटरसाइकिल जब्त

उन्होंने बताया कि शराब की इस खेप के साथ एक ट्रक, चार अन्य वाहन और एक मोटरसाइकिल जब्त किये गये है. मनोज ने बताया कि अरूणाचल प्रदेश और मध्यप्रदेश के ग्वालियर में निर्मित शराब को ट्रक से अन्य वाहनों पर लादा जा रहा था. जिसकी सूचना मिलते हुए पुलिस ने यह कार्रवाई की. उन्होंने बताया कि जीरोमाईल थाना क्षेत्र में ही एक अन्य वाहन से पुलिस ने 120 किलोग्राम अवैध मादक पदार्थ गांजा जब्त करते हुए एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया.

इसे भी पढ़ें- सार्जेंट मेजर व रीडर पर यौन शोषण का आरोप लगाने के बाद जामताड़ा के पुलिस अफसरों ने महिला सिपाही को चोरी के केस में फंसा कर सस्पेंड किया !

अब तक शराबबंदी कानून तोड़ने के मामले में एक लाख से ज्यादा की हो चुकी है गिरफ्तारी

बिहार में एक अप्रैल 2016 में पूर्ण शराबबंदी लागू होने के साथ इसको लेकर बनाये गये कानून को तोड़ने के मामले में एक लाख से ज्यादा लोगों को अब तक गिरफ्तार किया गया है. शराबबंदी कानून उल्लंघन के मामले में अब तक एक लाख 21 हजार 586 लोगों को गिरफ्तार किया गया, जिनमें से एक लाख 21 हजार 542 व्यक्ति जेल भेजे गये. यादव ने बताया कि इस दौरान 16.4 लाख लीटर अवैध विदेशी शराब 8.23 ​​लाख लीटर देशी शराब जब्त की गयी. उन्होंने बताया कि इस अवधि के दौरान 11939.7 लीटर बीयर, 37911.7 लीटर ताड़ी भी जब्त की गयी.

इसे भी पढ़ें- बीएसएल के खिलाफ इनकम टैक्स की बड़ी कार्रवाई, बोकारो एसबीआई का बीएसएल अकाउंट अटैच, वसूले 3.80 करोड़ बकाया 15.20 करोड़ बकाया

कितने मामले किये गये दर्ज

शराबबंदी के तहत की गयी छापेमारी में 2.1 लाख रूपए मद्य निषेध एवं उत्पाद विभाग और  4.4 लाख रूपये पुलिस द्वारा छापेमारी की गयी. साथ ही मद्य निषेध और उत्पाद विभाग ने 44,000 मामले दर्ज किये जबकि पुलिस ने करीब 57,000 मामले दर्ज किये.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.