पर्सनल इंटरव्यू में पूछे जाने वाले सवालों का इस तरह दें जवाब

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 01/02/2018 - 17:17

Ujjwal Bhardwaj

चाहे प्रतियोगी परीक्षाएं हों या प्राइवेट सेक्टर में जॉब, सभी में उम्मीदवारों को चयन इंटरव्यू प्रक्रिया यानी पर्सनैलिटी टेस्ट के बाद ही किया जाता है. बहुत से लोग लिखित में तो पास हो जाते हैं लेकिन जब बात पर्सनल इंटरव्यू की आती है तो लोग इसे लेकर काफी घबरा जाते है. घबराने का कारण यह नहीं है कि उनके पास ज्ञान की कोई कमी है, कमी है तो आत्मविश्वास और निर्णय क्षमता की. इसी वजह से कई बार लोग इंटरव्यू पैनल को ठीक से उत्तर नहीं दे पाते हैं. अगर आप भी इंटरव्यू को लेकर नर्वस रहते हैं, तो नीचे कुछ कॉमन प्रश्न और उनके आदर्श उत्तर दिये गये हैं जिससे आप अपनी तैयारी को आसान बना सकते हैं.

- अपने बारे में कुछ बतायें : इसके जवाब में आप पहले अपने नाम के साथ अपने सिटी का नाम बतायें जहां के आप रहने वाले हैं. फिर अपना एजुकेशन मेट्रिक से हायर क्वालिफिकेशन तक बतायें. उसके बाद एक्सपीरियंस प्रीवियस से शुरू करके पहले जॉब का एक्सपीरियंस बतायें और फिर अंत में अपनी हॉबी बतायें. अब इसमें ध्यान ये रखना है की ये बातें लम्बी न हो और न ही बहुत छोटी.  हॉबी वही बताएं जिसकी आपको जानकारी हो यानि की जिसमें आपकी हॉबी है उसी का जिक्र करें. इंप्रेशन बनाने के लिए कुछ भी न बता दें. जैसे कि सिंगिंग और रीडिंग को लोग हॉबी बताते हैं - कैंडिडेट से फिर पूछा जा सकता है  लास्ट बुक जो आपने पढ़ा है उसके लेखक कौन है साथ ही किताब का भी नाम बतायें. रीडिंग हॉबी है तो कम से कम 25 पेज की  किसी बुक का रोज पढ़ना लाजमी है. इसी तरह एक्सपीरियंस को बताते वक्त भी ध्यान रहे कि वही बतायें जो किये है  उस काम को पहले बतायें जो आने वाले काम को पूरा करने में मददगार हो.

- आप अपने वर्तमान जॉब को क्यों छोड़ना चाहते हैं : इसके जवाब में लोग अक्सर अपने कंपनी की खामी या अप्रेजल सिस्टम में या सैलरी इश्यूज इत्यादि बताते हैं जबकि आपको बताना चाहिए की आपका गोल क्या है और जिस जॉब के लिए इंटरव्यू देने आये हैं उससे अपने गोल को रिलेट करें. इस सवाल के जवाब में पर्सनल एंड प्रोफेशनल कॅरियर ग्रोथ को महत्व दें.

- आपका सबसे बड़ा  स्ट्रेंथ क्या है : इसके जवाब में ये ख्याल रखे की कौन-सा स्ट्रेंथ हमारे जॉब प्रोफाइल में काम आएगा. जॉब प्रोफाइल के अनुसार ही अपना स्ट्रेंथ बतायें ताकि सिलेक्शन के चांस बढ़ जाये. जैसे कि अगर आपका स्ट्रेंथ किसी को भी जल्दी  दोस्त बना लेना है, 4-5 लोकल भाषा की जानकारी है, साथ ही अगर आप सेल्स एंड मार्केटिंग जॉब के लिए गये हैं तब इसे अपनी स्ट्रेंथ में जरूर बताए.

                                                                        बहुत से लोग हार्ड वर्क या खुद को ऑनेस्ट बताते हैं  लेकिन ये जवाब अब बहुत पुराना हो गया हो गया. इसलिए ऐसे जवाबों का कम ही इस्तेमाल करें. ऐसी चीजें ही बतायें जो उस जॉब के जरूरतों को पूरा करता हो.

- आपकी सबसे बड़ी कमजोरी क्या है : इसके जवाब में आप अपने कमजोरी को इसतरह बतायें की वो स्ट्रेंथ में परिवर्तित हो जाये, जैसे मान लीजिए की इंग्लिश न बोलना आपकी  कमजोरी है, तो उसके लिए आप इंटरव्यू लेने वाले को यह बतायें कि आप अपनी कमजोरी को दूर करने के लिए रोजाना 10 वर्ड मीनिंग याद करते हैं, इंग्लिश पेपर पढ़ते हैं और ऑफिस स्टाफ के साथ इंग्लिश में बात करने की कोशिश भी करते  हैं. अगर आप ऐसा करते हैं तो आपकी कमजोरी भी आपके स्ट्रेंथ में काउंट की जायेगी. क्योंकि आप निरंतर प्रयास कर रहे हैं अपनी सबसे बड़ी कमजोरी को खत्म करने के लिए .

- हम आपको ही क्यों दें ये जॉब : आप इसके जवाब में भी सिर्फ और सिर्फ अपने वर्क एक्सपीरियंस को आने वाले जॉब से रिलेट करें और कॉन्फिडेंस के साथ यह बतायें कि मैं ही हुं जो इस काम का अनुभव रखता हुं और मैं इसके लिए बेस्ट कैंडिडेट हुं, साथ ही अपने स्ट्रेंथ को भी इसमें जरूर जोड़ें. इस तरह के सवालों को सुनकर घबरायें नहीं  बल्की पूरे आत्मविश्वास के साथ छोटा और सटीक जवाब दें जो इंटरव्यू लेने वाला सुनना चाहता है.

loading...
Loading...