अन्ना हजारे बोले- 'इस बार आंदोलन का सहारा लेकर किसी को सत्ता का हित नहीं देंगे साधने'

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 01/16/2018 - 16:28

New Delhi : समाजसेवी अन्ना हजारे ने किसानों की बदहाली और चुनाव सुधार के लिये आगामी 23 मार्च से शुरू हो रहे आंदोलन से ऐसे लोगों को दूर रखने की बात कही है जो आंदोलन को जरिया बनाकर राजनीति में आ जाते हैं. हजारे ने आज मंगलवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का नाम लिये बिना कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ पिछले आंदोलन के मंच का इस्तेमाल कर कोई मुख्यमंत्री बन गया तो कोई मंत्री.

इसे भी पढ़ें- हर माह 30 करोड़ का डस्ट (चारकोल), कोयला के साथ मिलाकर कंपनियों को भेज रहा कोल ट्रांसपोर्टर

आंदोलन का इस्तेमाल कर कोई मुख्यमंत्री बन गया तो कोई मंत्री बन गया

उन्होंने कहा कि इस बार हमने आंदोलन में उन्हीं लोगों को साथ लिया है जो हलफनामा देकर भविष्य में किसी राजनीतिक दल में शामिल नहीं होने की शपथ लेते हैं. अगर यह हलफनामा पहले लिया होता तो आंदोलन के मंच का इस्तेमाल करने वाले लोग मुख्यमंत्री और मंत्री नहीं बन पाते. केजरीवाल द्वारा आंदोलन को धोखा देने के सवाल पर हजारे ने कहा कि ‘‘मैं तो फकीर हूं, फकीर को कोई क्या धोखा देगा, लेकिन यह जरूर है कि अरविंद ने आश्वासन दिया था कि वह पार्टी नहीं बनायेंगे.

इसे भी पढ़ें- हजारीबाग जेल के कैदियों ने CCTV कैमरा लगाने का किया विरोध, कहा- 'गरिमा के साथ जीने का माहौल दें'

केजरीवाल के लिये अन्ना के तीखे बोल

हाल ही में राज्यसभा की तीन सीटों के चुनाव में केजरीवाल पर टिकट बेचने के आरोप लगने के सवाल पर हजारे ने कहा ‘‘मेरा अब उन लोगों से कोई ताल्लुक नहीं है, इसलिये मुझे उनके बारे में कुछ पता नहीं है. उनका रास्ता अलग है मेरा रास्ता अलग, ऐसे में उनके बारे में मुझे कुछ नहीं कहना है. हजारे ने बताया कि 23 मार्च को वह दिल्ली में किसान पेंशन विधेयक को पारित करने और चुनाव सुधार की मांग को लेकर आंदोलन करेंगे. इसके लिये राजनीति से खुद को दूर रखने वाले समर्पित कार्यकर्ताओं को सभी राज्यों से आंदोलन में शामिल करने की प्रक्रिया चल रही है. उन्होंने कहा कि इस बार आंदोलन के आयोजकों और सभी इच्छुक कार्यकर्ताओं से खुद को राजनीति से दूर रखने का शपथपत्र लिया जा रहा है. जिससे कोई भी आंदोलन के जरिये सत्ता तक पहुंचने का हित न साध सके.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

top story (position)