अखिलेश ने कहा बदनाम कर रही BJP, सरकार ने कहा खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 06/13/2018 - 16:21

Lucknow : समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने हाल में सरकारी बंगले में कथित तोड़फोड़ को लेकर चल रही खबरों को उन्हें बदनाम करने की सरकारी साजिश करार देते हुए कहा कि हाल के उपचुनावों में मिली हार और विपक्षी दलों के गठबंधन से परेशान भाजपा ने यह हरकत की है. वहीं दूसरी ओर समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव द्वारा अपने बंगले को लेकर लगाये गये आरोपों पर पलटवार करते हुये राज्य सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि सच्चाई सामने आने पर 'खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे’’ वाली कहावत चरितार्थ हो रही है.

बंगले में लगाने के लिए पैसा उनके पास कहां से आया बताएं अखिलेश : सिंह

अखिलेश के आरोपों के बाद सरकार के प्रवक्ता और स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि अखिलेश यादव को खुद आयकर​ विभाग को यह बताना चाहिए कि बंगले में लगाने के लिए पैसा उनके पास कहां से आया. इसके अलावा उन्होंने तंज कसते हुए कहा है कि ‘‘जिस दीवार को तोड़ा गया उसके पीछे क्या छिपाया गया था, इसकी जानकारी भी दें. इससे पहले बंगले में तोड़फोड़ का मामला तूल पकड़ने के बाद सपा अध्यक्ष ने प्रेस कांफ्रेंस में सफाई दी और भाजपा पर जमकर बरसे. उन्होंने इस मामले में कार्रवाई के लिये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को मंगलवार को पत्र लिखने वाले राज्यपाल राम नाईक पर भी संविधान के अनुरूप काम ना करने का आरोप लगाते हुए कहा कि ‘‘उनके अंदर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की आत्मा है.

इसे भी पढ़ें- सरकारी शराब सिंडिकेट : पहले शॉप सुपरवाइजर को हटाया, फिर जिला उत्पाद ऑफिस को किया साइडलाइन अब प्राइवेट कंपनी सीधा करती है जेएसबीसीएल को रिपोर्ट (2)

गोरखपुर और फूलपुर की हार स्वीकार नहीं कर पा रही भाजपा

अखिलेश ने कहा कि इन दिनों सोशल मीडिया पर चर्चा है कि हम अपने सरकारी बंगले को खाली करने के दौरान टोटियां खोल ले गये और फर्श का पत्थर तोड़ डाला. यह सरासर गलत और मुझे बदनाम करने के लिये ही किया गया है. इसमें कुछ अधिकारी भी शामिल हैं. पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार मुझे बताये कि मैं कौन सी सरकारी चीज अपने साथ ले गया. मैंने जो चीजें अपने पैसे से लगवायी थीं, वह मैं ले गया. अगर मैं कोई सरकारी चीज ले गया हूं तो मैं उसे फौरन वापस करूंगा. अखिलेश ने कहा कि भाजपा यह इसलिये कर रही है क्योंकि वह गोरखपुर और फूलपुर की हार स्वीकार नहीं कर पा रही है. वह यह समझ ले कि इस अपमान के लिये जनता उसे सबक सिखाएगी.

'खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे' : सिंह

राज्य सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थनाथ सिंह ने अखिलेश की प्रेस कांफ्रेस के तुरंत बाद आनफानन में बुलायी गयी पत्रकार वार्ता में कहा कि 'अखिलेश कह रहे हैं कि उन्होंने बंगले में निर्माण कार्य अपने खुद के पैसे से करवाये हैं. अब आयकर विभाग को चाहिये कि वह इस मामले की जांच करे कि जो पैसे मकान में लगाये जाने की बात वह कर रहे हैं उसका कोई हिसाब किताब भी है या नहीं. सिंह ने कहा कि अखिलेश ने राज्यपाल के लिए जिन शब्दो का चयन किया है वह उन्हें शोभा नही देता, उसकी हम निंदा करते हैं. राज्यपाल संवैधानिक पद है. हम सभी को उनका सम्मान करना चाहिए. उन्होंने कहा कि अखिलेश की पत्रकार वार्ता 'खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे' की बात की ओर इशारा करती है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na
7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

बिहार के माथे पर एक और कलंक, चपरासी ने 8,000 रुपये में कबाड़ी को बेची थी 10वीं परीक्षा की कॉपियां

स्वच्छता में रांची को मिले सम्मान पर भाजपा सांसद ने ही उठाये सवाल, कहा – अच्छी नहीं है कचरा डंपिंग की व्यवस्था

तो क्या ऐसे 100 सीटें बढ़ायेगा रिम्स, न हॉस्टल बनकर तैयार, न सुरक्षा का कोई इंतजाम, निधि खरे ने भी लगायी फटकार

पत्थलगड़ी समर्थकों ने किया दुष्कर्म, फादर सहित दो गिरफ्तार, जांच जारीः एडीजी

स्वच्छता सर्वेक्षण की सिटीजन फीडबैक कैटेगरी में रांची को फर्स्ट पोजीशन, केंद्रीय मंत्री ने किया पुरस्कृत

J&K: बीजेपी विधायक की पत्रकारों को धमकी, कहा- खींचे अपनी एक लाइन

दुनिया की सबसे बड़ी ऑनलाइन मेगा परीक्षा कराने जा रही है रेलवे, डेढ़ लाख लोगों को मिलेगा रोजगार

“महिला सिपाही पिंकी का यौन शोषण करने वाले आरोपी को एसपी जया रॉय ने बचाया, बर्खास्त करें”

यूपीः भीषण सड़क हादसे में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत

सरकार जमीन अधिग्रहण करेगी और व्यापक जनहित नाम पर जमीन का उपयोग पूंजीपति करेगें : रश्मि कात्यायन

16 अधिकारियों का तबादला, अनिश गुप्ता बने रांची के एसएसपी, कुलदीप द्विवेदी गए चाईबासा