नहीं थम रहा दरिंदगी का सिलसिला, उन्नाव-कठुआ के बाद सूरत और रोहतक में मासूम बच्चियों से हैवानियत

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 04/16/2018 - 11:27

Rohtak/surat : महिलाओं पर हो रहे हमले और रेप के मामले थमते नहीं दिख रहे हैं. कठुआ और उन्नाव में हुए गैंगरेप और उसके बाद देशभर में हो रहे विरोध प्रदर्शन के बीच अब गुजरात के सूरत और हरियाणा के रोहतक रेप के बाद हत्या का मामला सामने आया है. सूरत और रोहतक में 8-10 साल की बच्चियों को दरिंदगी का शिकार बनाया गया है. 

इसे भी पढ़ें: कठुआ गैंगरेप केस: पीड़ित पक्ष के वकील ने की राज्य से बाहर केस ट्रांसफर करने की मांग, सुप्रीम कोर्ट में दायर होगी याचिका

सूरत में बच्ची के शरीर पर मिले 86 घाव के निशान

सूरत में एक 11 साल की बच्ची के साथ रेप और हत्या का मामला सामने आया है. पीड़ित लड़की के बारे में अब तक कोई जानकारी नहीं मिल पाई है और पुलिस मामले की जांच कर रही है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार, पीड़ित के शरीर पर 86 घाव के निशान मिले हैं और उसके निजी अंगों को भी नुकसान पहुंचाया गया है. सूरत में बच्ची का शव छह अप्रैल को क्रिकेट के मैदान के पास झाड़ियों में पड़ा मिला था.  इसके बारे में कुछ राहगीरों ने पुलिस को जानकारी दी थी. पांडेसरा थाने के निरीक्षक के बी झाला ने कहा कि ऑटोप्सी रिपोर्ट के अनुसार लड़की के शव पर चोट के 86 निशान मिले. निजी अंगों पर भी निशान मिलने से लगता है कि उसे प्रताड़ित किया गया और उसके साथ दुष्कर्म किया गया. उसका गला घोंट दिया गया. पुलिस आयुक्त ने कहा कि जांच शहर पुलिस की अपराध शाखा को सौंप दी गयी है और बच्ची की पहचान के लिए समस्त प्रयास किये जा रहे हैं. पुलिस ने लड़की के बारे में जानकारी देने वाले को 20,000 रुपए का इनाम देने की घोषणा की है.

इसे भी पढ़ें: कठुआ गैंगरेप केस: बीजेपी के दो मंत्रियों के इस्तीफे पर राम माधव लेंगे फैसला, पीडीपी की भी अहम बैठक

रोहतक की घटना

वहीं हरियाणा स्थित रोहतक के तितौली गांव में 6-7 वर्षीय बच्ची का शव बरामद हुआ है. लड़की का शव एक बैग में था.  स्थानीय लोगों ने नहर में तैर रहे बैग को देखा. बैग से बच्ची के शरीर का कुछ हिस्सा दिखाई दे रहा था और ग्रामीणों ने पुलिस को तुरंत सूचित किया. रोहतक पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि लड़की की उम्र छह से सात साल हो सकती है और शव एक हफ्ते पहले का हो सकता है. अधिकारी ने कहा कि हमने लड़की की पहचान के लिए आसपास के जिलों में विवरण के साथ टीमों को भेजा है. फिलहाल पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है. गौरतलब है कि तितौली गांव के मजदूर राम भगत, नहर में पानी के आपूर्ति की जांच करने जा रहे थे. तभी उन्हें नहर के बगल में एक हरे रंग का बैग मिला, जहां से एक बदबू आ रही थी. इस बात की सूचना उन्होंने पुलिस को दिया. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. हालांकि अभी तक बच्ची की पहचान नहीं हो पाई है. पुलिस ने कहा कि यह हत्या का मामला है. 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

loading...
Loading...