Skip to content Skip to navigation

मोमेंटम झारखंड का सच- 2: तीन कंपनियों की कुल पूंजी तीन लाख, एमओयू 2800 करोड़ का

Akshay Kumar Jha

Ranchi, 09 October:
मार्च में हुए मोमेंटम झारखंड के बाद सरकार ने 210 कंपनियों के साथ एमओयू किया है. 310753.12 करोड़ का निवेश और 2,11,226 लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार देने का दावा किया जा रहा है. लेकिन, सुबूत इन दावों को खोखला और दावे के सच को झुठला रहे हैं. करार करने के आनन-फानन या फिर किसी और ही वजह से ऐसी-ऐसी कंपनियों के साथ सरकार करार कर रही है जिसकी हैसियत करार के रकम के सामने कुछ भी नहीं. इतना ही नहीं करार में LLP कंपनियों की भरमार है. सरकार ने तीन एेसी कंपनियोंं के साथ 2800 करोड़ रुपया एमअोयू किया, जिन कंपनियोंं की कुल पुंजी महज तीन लाख रुपये थी. कंपनी की उम्र महज 39 दिन से 10 माह तक था. इन कंपनियों में Offorbys Conglomerate LLP, PJP Cinemas LLP और Orient Craft Fashion Park One LLP है. अाखिर सरकार ने एेसी कंपनियों से क्योंं एमअोयू किया, इसमें किन-किन अफसरो की भूमिका थी. क्या एमअोयू करने से पहले सरकार ने कंपनियोंं की जांच नहीं की. या फिर सरकार व अफसरोंं ने मिल कर लोगोंं को बेवकूफ बनाने के लिए यह सब किया. हजारोंं बेरोजगारोंं को रोजगार दिलाने का सपना दिखाया. अभी इन सवालोंं का जवाब अाना बाकी है. 

इसे भी पढ़ेंः  एक माह पुरानी, एक लाख की कंपनी से सरकार ने किया 1500 करोड़ का करार

कहानी तीन LLP कंपनियों की

पहली- Offorbys Conglomerate LLP का Dept. of Tourism, Arts, Culture, Sports & Youth Affairs Department के साथ एमओयू हुआ है. कंपनी प्रदेश में Cinema Halls, Family, Entertainment, Centres, Malls, Amusement Park, Gaming Zones और Resorts बनाएगी. इस काम के लिए कंपनी ने सरकार के साथ 400 करोड़ का एमओयू किया है. लेकिन कंपनी का सच देखने के बाद कोई भी चौक जाएगा. कंपनी की Authorised Capital (अधिकृत पूंजी) सिर्फ एक लाख रुपए है. कंपनी ने जब सरकार के साथ ये करार किया तो उसका तजुर्बा सिर्फ 9 महीने का था. लेकिन, कंपनी दावा करती है कि वो 2300 लोगों को रोजगार देगी.

दूसरी-  PJP Cinemas LLP का Dept. of Urban Development & Housing के साथ एमओयू हुआ है. कंपनी प्रदेश में Family Entertainment Centres खोलने का काम करेगी. इस काम के लिए कंपनी ने सरकार के साथ 899 करोड़ का एमओयू किया है. जबकि कंपनी की Authorised Capital (अधिकृत पूंजी) सिर्फ एक लाख रुपए है. कंपनी ने जब सरकार के साथ ये करार किया तो उसका तजुर्बा सिर्फ 10 महीने का था. लेकिन कंपनी का दावा है कि वो 5000 लोगों को  प्रत्यक्ष रूप से रोजगार देगी.    

तीसरी- Orient Craft Fashion Park One LLP का Dept. of Industries के साथ एमओयू हुआ है. कंपनी प्रदेश में इंडस्ट्रीयल पार्क लगाने का काम करेगी. कंपनी अपने पार्क में ऐसे उद्योग को बढ़ावा देगी जो रेडिमेड कपड़ों का बनाने का काम करती है. इस काम के लिए सरकार के साथ कंपनी ने 1500 करोड़ का करार किया है. जबकि कंपनी की Authorised Capital (अधिकृत पूंजी) सिर्फ एक लाख रुपए है. कंपनी ने जब सरकार के साथ ये करार किया तो उसका तजुर्बा सिर्फ 39 दिनों का था. कंपनी का दावा है कि वो 50,000 लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोजगार देने का काम करेगी.  

इसे भी पढ़ेंः  कोरियाई कंपनियां अब नहीं करेगी 7000 करोड़ का निवेश, सात में से छह प्रोजेक्ट गुजरात शिफ्ट

LLP कंपनियों के साथ होने वाले नुकसान को भी जान लें

LLP का फुल फॉर्म Limited Liability Partnership  है. मतलब ऐसी कंपनी का सरकार या किसी बड़े फर्म के साथ एमओयू होने के बाद अगर किसी भी कारण से करार पूरा नहीं हो पाता है, तो कंपनी करार करने वाले एजेंसी या सरकार को सिर्फ उतना ही रकम लौटाएगी जितनी उसकी अधिकृत पूंजी है. इस लिहाज से 400 करोड़, 899 करोड़ और 1500 करोड़ का एमओयू करने वाली कंपनी अगर काम पूरा नहीं कर पाती है तो वो सिर्फ एक लाख रुपए लौटाने की जिम्मेदार होगी. जो कि उसकी अधिकृत पूंजी है.

इसे भी पढ़ेंः  225 करोड़ एमअोयू करने वाला प्रज्ञान फाउंडेशन कोलकाता पुलिस की गिरफ्त में

LLP कंपनियों का और भी खेल

अगर LLP कंपनी एमओयू की शर्तों को पूरा नहीं करती हैं, तो उसे अपनी अधिकृत पूंजी लौटानी होगी. यहां भी LLP कंपनियां खेल करती हैं. अगर कंपनी में दो लोगों की हिस्सेदारी है. एक की लागत 80,000 रुपए और दूसरे की लागत 20,000 रुपए हैं, तो ऐसे में दोनों हिस्सेदार की मिलीभगत से कम हिस्सेदार वाले के ऊपर काम खराब होने का सारा ठीकरा फोड़ा जाता है. ऐसा होने पर दूसरे हिस्सेदार जिसकी कुल लागत सिर्फ 20,000 है उतनी ही रकम वापस करनी होगी. चाहे एमओयू कितने का भी हो.  

इसे भी पढ़ेंः  छह माह बीते, एमओयू तीन लाख करोड़ का और निवेश सिर्फ 800 करोड़

इन कंपनियों के साथ भी हुआ घाटे का सौदा

कंपनी का नाम- Chargetech Energy LLP

किस विभाग से एमओयू हुआ- Dept. of Industry, Mines & Geology 

कितने का एमअोयू हुअा- 3.5 करोड़

कंपनी की अधिकृत पूंजी- एक लाख रुपया

करार के वक्त कंपनी की उम्र- 5 मीहना

 

कंपनी का नाम- Dhara Holiday LLP  

किस विभाग से एमओयू हुआ- Dept. of Tourism, Arts, Culture, Sports & Youth Affairs Department  

 

कितने का एमअोयू हुअा- 50 करोड़

कंपनी की अधिकृत पूंजी- एक करोड़

करार के वक्त कंपनी की उम्र- 10 महीने

 

 

Slide
City List: 
Share

Add new comment

UTTAR PRADESH

News WingGajipur, 21 October : उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में मोटरसाइकिल पर आए हमलावरों ने राष्ट्रीय स्...
News Wing Uttar Pradesh, 20 October: धनारी थानाक्षेत्र में पुलिस के साथ मुठभेड़ में एक इनामी बदमाश औ...

Ranchi News

सभी राशन दुकानों में रखे जायें अपवाद पुस्तिका

Sahebganj News

News Wing

Rajmahal (Sahebgunj), 22 October: उड़ीसा के बौद्ध शहर से अपहृत बच्ची को पु...

Website Designed Developed & Maintained by   © NEWSWING | Contact Us