Skip to content Skip to navigation

न्यूज विंग के जागरूक पाठक अपनी समस्या, अपने आस-पास हो रही अनियमितता की तस्वीर या कोई अन्य खबर फोटो के साथ वाहट्सएप नंबर - 8709221039 पर भेजे. हम उसे यहां प्रकाशित करेंगे.

Add new comment

विश्व की 50 सशक्त महिलाओं में 4 भारतीय

वाशिंगटन | अमेरिकी पत्रिका 'फॉर्चून' के ताजा अंक में जारी विश्व की 50 शक्तिशाली महिलाओं की सूची में चार भारतीय महिलाएं शामिल हैं। इनमें आईसीआईसीआई बैंक की मुख्य कार्यकारी अधिकारी चंदा कोचर चारों भारतीय महिलाओं में शीर्ष पर हैं, जबकि एक पृथक अमेरिकी सूची में पेप्सिको की अध्यक्ष इंद्रा नूई को दूसरा स्थान दिया गया है।

फॉर्चून में जारी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर शक्तिशाली महिलाओं की सूची के अनुसार चंदा कोचर को चौथी वरीयता दी गई है, और उनके बाद नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) की अध्यक्ष चित्रा रामकृष्णा को 17वें, एक्सिस बैंक की शिखा शर्मा को 32वें एवं एचएसबीसी बैंक की नैना लाल किदवई को 42वें स्थान पर रखा गया है।

पिछले वर्ष जारी सूची में कोचर को पांचवें स्थान पर रखा गया था, जिसमें इस वर्ष एक स्थान का इजाफा हुआ है, जबकि एनएसई की रामकृष्णा को इस सूची में पहली बार शामिल किया गया है।

वहीं शिखा शर्मा, और नैना लाल किदवई को पिछले वर्ष की सूची में क्रमश: 37वें एवं 40वें स्थान पर रखा गया था।

चित्रा रामकृष्णा को वैश्विक शक्ति की स्थिति में परिवर्तन लाने वाली 12 नई महिलाओं की सूची में शामिल किया गया है, और पत्रिका लिखता है कि उन्होंने भारत में किसी शेयर बाजार की पहली महिला अध्यक्ष बनकर इतिहास रचा है।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के बोर्ड सदस्यों ने देश के सबसे बड़े एवं विश्व के सातवें नंबर के एक्सचेंज मार्केट का कार्यभार सौंपने के लिए चित्रा के 20 वर्ष के अनुभव को तरजीह दी। एनएसई में सूचीबद्ध उद्योगों की कुल पूंजी लगभग 1,000 अरब डॉलर है।

पेप्सिको की इंद्रा नूई पिछले वर्ष भी सूची में दूसरे स्थान पर थीं। फॉर्चून के अनुसार, "खाद्य एवं पेय पदार्थो की सबसे बड़ी अमेरिकी कंपनी पेप्सिको के शेयरों में इस वर्ष भी भारी उछाल रहा।"

पत्रिका में आगे कहा गया है, "नूई ने सिर्फ सोडा पेय का व्यापार करने वाली कंपनी को तेजी से खपत होने वाले अन्य उत्पादों जैसे दही और हुमस में भी कंपनी की दखल बढ़ाई। पेप्सी आज 22 अरब डॉलर का ब्रांड बन चुका है।"

अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर शक्तिशाली महिलाओं की इस सूची में ब्राजील की ऊर्जा कंपनी पेट्रोब्रास की सीईओ मारिया दास ग्रासास फॉस्टर को दुनिया की सबसे शक्तिशाली महिला का गौरव प्रदान किया गया है।

सूची के अनुसार, तुर्की की समूह कंपनी साबांकी होल्डिंग्स की ग्यूलर साबांकी विश्व की दूसरी सबसे शक्तिशाली महिला हैं, जबकि आस्ट्रेलिया के सबसे बड़े बैंक वेस्टपैक की सीईओ गेल केली को दुनिया की तीसरी सबसे शक्तिशाली महिला करार दिया गया है।

अमेरिकी की सबसे शक्तिशाली महिलाओं की सूची में फिर से आईबीएम की गिन्नी रोमेट्टी को शीर्ष स्थान दिया गया है। (अरुण कुमार)

Top Story
Share
loading...