Skip to content Skip to navigation

Add new comment

रांची: बड़ी दुकानों के मुकाबले फुटपाथ पर जमकर लोग कर रहे हैं ऊनी कपड़ों की खरीदारी

NEWS WING

RANCHI, 17 NOVEMBER : ठंड बढ़ते ही ऊनी कपड़ों का बाजार पूरी तरह से गरम हो चुका है. अलग- अलग  फुटपाथ दुकानों में लोग जम कर ऊनी कपड़ों की खरीदारी कर रहे हैं. हाल यह है कि मॉल से अधिक  फुटपाथ की दुकानों पर ही खरीदारों की भीड़ उमड़ रही है. खरीदारों की मानें तो उन्हें मॉल या दुकानों के मुकाबले फुटपाथ दुकानों पर काफी कम दामों में ही कपड़े उपलब्ध हो जाते हैं. रांची के डेली मार्केट से लेकर फिरायालाल  चौक तक गर्म कपड़ों की फुटपाथ पर लगी दुकानें लोगों को ऊनी कपड़े खरीदने के लिए आकर्षित कर रहे हैं. इस बार बाजार में हर तबके के लोगों के लिए गरम कपड़े उतारे गये हैं.

फुटपाथ पर जमकर हो रही है खरीदारी 

लोग अपने पॉकेट के हिसाब से लोग अपने और अपने परिवार के लिए गरम कपड़े खरीद रहे है. रंग-बिरंगे रंगीन गरम कपड़े लोगों को लुभा रहे है. खरीदारी के लिए लोग गांव-देहात से भी पहुंच रहे है. फुटपाथ पर लगाये गये दुकानों में सौ रुपये से शुरू होकर 1000 हजार से ऊपर तक के गर्म कपड़े उपलब्ध हैं , जिसे लोग शौक से खरीद रहे हैं. फुटपाथ पर बिक रहे गर्म कपड़ो में  स्वेटर, जैकेट, अपर, लोअर, चीटर खूब बिक रहे हैं. वहीं  ठंड बढने के साथ ही बाजार में कपड़ों की डिमांड भी बढ़ती जा रही है.

क्या कहते हैं दुकानदार

वहीं फुटपाथी दूकानदार नोशाद बताते हैं कि  हमलोग बड़े से छोटे तबके के लोगों का ख्याल रखते हैं और हमारी दुकान में रातू, मंडार, झिरी, मनातू से भी लोग भी आते हैं. उन्हें हम बहुत कम दाम में स्वेटर,जैकेट, शर्ट, मफलर, टोपी आदि उपलब्ध करवाते हैं. उनका कहना है कि 100 रुपये से लेकर 1000 रुपये तक भी गर्म कपड़े हमारे पास उपलब्ध हैं

फुटपाथी कंबल विक्रेता गुलाम खान बताते हैं कि हमारे यहां 300 से लेकर 2300 तक के कंबल मौजूद हैं. ताकि एक गरीब आदमी से लेकर धनी आदमी भी हमारे फुटपाथ दूकान पर आकर खरीदारी कर सके. साथ ही उन्होंने कहा कि हमारे दुकानों में ग्राहक अच्छी तादाद में आ रहे हैं. अधिकतर गरीब तबके के ही लोग हमारे दुकान में कंबल लेने आते हैं और शहर से अधिक हमारे दुकान पर गांव के लोग कंबल लेने आते हैं.

द फैशन संचालक ( जमील अंसारी )  का कहना है कि हमारे दुकान में भी कम दाम के कपड़े उपलब्ध हैं. फिर भी जितनी ठंड बढ़ी है उस हिसाब से ग्राहक नहीं पहुंच रहे हैं. साथ ही इनका कहना है कि हमारे दुकान की अपेक्षा फुटपाथ के दुकानों पर ऊनी कपड़ों के खरीदारों की भीड़ ज्यादा उमड़ रही है.

Lead
City List: 
Share
loading...