Skip to content Skip to navigation

न्यूज विंग के जागरूक पाठक अपनी समस्या, अपने आस-पास हो रही अनियमितता की तस्वीर या कोई अन्य खबर फोटो के साथ वाहट्सएप नंबर - 8709221039 पर भेजे. हम उसे यहां प्रकाशित करेंगे.

Add new comment

कला एवं संस्कृति विभाग फिल्म ‘पद्मावती’ से संबंधित आपत्तियों और मामलों को देखेगा: गृहमंत्री

News Wing

Jaipur, 11 November: राजस्थान का कला एवं संस्कृति विभाग विवादित फिल्म ‘पद्मावती’ से संबंधित आपत्तियों और मामलों के बारे में विशेषज्ञों के साथ चर्चा करेगा. राज्य के गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि उनके विभाग ने आज फिल्म की आपत्तियों से जुड़े मामलों को कला एवं संस्कृति विभाग को भेजने का निर्णय लिया है.

कला एवं संस्कृति विभाग फिल्म के बारे में आपत्तियों को देखेगा: कटारिया

कटारिया ने ‘मिडिया’ को बताया कि ‘‘कला एवं संस्कृति विभाग फिल्म के बारे में आपत्तियों को देखेगा. विभाग इतिहाकारों और विशेषज्ञों से मिलकर इस मुद्दे पर चर्चा करेगा. जरूरत पड़ी तो विरोध दर्ज कराने वाले लोगों से भी बात की जाएगी. यह विभाग विशेषज्ञों से चर्चा करके वापस गृह विभाग को कुछ दिनों में सूचित करेगा.’’ राजपूत समाज के नेतागण, करणी सेना, भाजपा विधायक और जयपुर के पूर्व राजघराने की सदस्य दीया कुमारी ने फिल्म में रानी पद्मावती से जुड़े ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ किये जाने का आरोप लगाते हुए इस पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है.

यह भी पढ़ें: पद्मावती विवाद: साक्षी महाराज ने कहा, पैसे के लिए नंगे भी हो सकते हैं फिल्म वाले

बजरंग दल ने मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन

वहीं आज बजरंग दल के सैकडों कार्यकर्ताओं ने जयपुर के कलेक्ट्रेट के बाहर प्रदर्शन किया और राजस्थान में फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन जिला प्रशासन के अधिकारी को सौंपा. बजरंग दल के प्रांत समन्वयक अशोक सिंह ने कहा, ‘‘फिल्म निर्माता ने कई ऐतिहासिक तथ्यों की साथ छेड़छाड़ की है. हमारी मांग है कि फिल्म पर पूरी तरह प्रतिबंध लगे.’’ उन्होंने कहा कि फिल्म का प्रोमो देखकर स्पष्ट होता है कि इसमें रानी पद्मावती से जुड़े तथ्यों को आपत्तिजनक तरीके से दिखाया गया है. इसी तरह का विरोध प्रदर्शन प्रदेश के अन्य जिला मुख्यालयों पर भी किया गया है.

यह भी पढ़ें: रानी पद्मावती और अलाउद्दीन खिलजी के बीच कोई ड्रीम सिक्वेंस नहींः भंसाली

पर्यटन विभाग ने रानी पद्मावती को अलाउद्दीन खिलजी की प्रेमिका बताया 

वहीं दूसरी ओर, भाजपा के विधायक घनश्याम तिवाडी ने फिल्म पर उपजे विवाद के लिये राज्य सरकार को जिम्मेदार बताया है. उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य सरकार के पर्यटन विभाग के एक ट्वीट में रानी पद्मावती को अलाउद्दीन खिलजी की प्रेमिका बताया था.

Lead
Share
loading...