Skip to content Skip to navigation

Add new comment

बिरसा मुंडा फुटबॉल स्टेडियम में अब होगा सिर्फ खेल, नहीं होंगे समारोह और मेले

Manish Jha Ranchi, 12 October: मोरहाबादी स्थित बिरसा मुंडा फुटबॉल स्टेडियम में अब न कोई समारोह आयोजित होगा और न ही यहां किसी प्रकार का मेला लगेगा. यह स्टेडियम अब सिर्फ खेल और खिलाडि़यों के लिए ही इस्तेमाल किया जाएगा. इस संबंध में झारखंड खेल प्राधिकरण द्वारा आदेश जारी किया गया है. इसमें स्पष्ट कहा गया है कि बिरसा मुंडा फुटबॉल स्टेडियम का इस्तेमाल किसी भी नन स्पो‌र्ट्स एक्टिविटी के लिए नहीं होगा. प्राधिकरण ने आदेश जारी कर कहा है कि यहां खेल के अलावा अन्य प्रोग्राम होने से मैदान खेलने लायक नहीं बचा. अलग- अलग तरह की एक्टिविटी होने के कारण मैदान में कंक्रीट भी जमा हो जा रहा है, साथ ही प्रोग्राम होने के बाद मैदान गंदा हो जा रहा है. ऐसे में प्लेयर्स के लिए यह मैदान सुरक्षित नहीं रहेगा. अन्य एक्टिविटी होने के कारण इस स्टेडियम का ग्राउंड पूरी तरह से जर्जर अवस्था में पहुंच गया है. उसके साथ दर्शक दीर्घा की बैठने वाली कुर्सी दम तोड़ती दिख रही है.

कई खेलों के लिए बनाये गये हैं प्रशिक्षण केंद्र

खेल प्राधिकरण के अनुसार, इस फुटबॉल स्टेडियम में भारतीय खेल प्राधिकरण द्वारा कई खेलों के लिए प्रशिक्षण केंद्र भी बनाया गया है. इसमें एथलेटिक्स, फुटबॉल, हॉकी, तीरंदाजी, वालीबॉल का प्रशिक्षण केंद्र भी चल रहा है. इसके अलावा ऐसे में अगर मैदान को मैदान नहीं रहने दिया जाएगा, तो प्लेयर्स ट्रेनिंग के लिए कहां जाएंगे. इसलिए इस मैदान में सिर्फ खेल ही होगा.

डे बोर्डिग प्लेयर लेते हैं ट्रेनिंग

इस मैदान में झारखंड खेलकूद व युवा कार्य निदेशालय द्वारा संचालित डे बोर्डिग ट्रेनिंग सेंटर भी है. यहां प्रशिक्षण लेने वाले खिलाड़ी इसी मैदान में हर दिन ट्रेनिंग लेते हैं. अब जब राज्य के खेल से जुडे़ हुए लोगों का भविष्य यहां से बनना है, ऐसे में मैदान के साथ कोई जोखिम नहीं उठाया जाएगा. खेल प्राधिकरण ने निर्णय लिया है कि खेल के अलावा किसी भी प्रोग्राम के लिए स्टेडियम की बुकिंग नहीं ली जाएगी.

500 रुपये महीने के शुल्क पर खेलों का प्रशिक्षण

झारखंड खेल प्राधिकरण के खेल सलाहकार देवेंद्र कुमार सिंह का कहना है अब इस स्टेडियम पे एंड प्ले स्किम के तहत खिलाड़ियों को कबड्डी , फेनसिंग ,योगा,टेबल टेनिस , खो -खो , वुसु, स्विमिंग  आदि का प्रशिक्षण दिया जाता है और स्विमिंग के अलावा हर खेल का 500 रुपये मंथली लिया जाता है. सब खेल के अलग -अलग कोच नियुक्त किये गये हैं. स्विमिंग के लिये कोई भी व्यक्ति प्रशिक्षण ले सकते हैं. उनकी फी 2000 रूपया हर महीना निर्धारित किया गया है.

हर खेल के लिए अलग कोच हैं मौजूद

वुशु खेल के लिए कोच दीपक गोप और सहायक कोच के रूप में प्रदीप कुमार सिंह नियुक्त हैं.

कबड्डी के लिए कोच प्रदीप तिर्की और सहायक कोच के रूप में मोनिका टोप्पो योगदान दे रहे हैं.

कराटे का प्रशिक्षण मुख्य कोच चंदन कुमार और सहायक कोच नवीन कुमार दे रहे हैं.

फेनसिंग खेल का प्रशिक्षण जुलिनी टोप्पो और प्रेमउदय बेक दे रहे हैं.

स्विमिंग का मुख्य रूप से प्रशिक्षण देने का सोमरा करते हैं.

योग का प्रशिक्षण डॉ कृष्ण कुमार देते हैं, वही सहायक कोच के रूप में अमरेंद्र कुमार ट्रेनिंग देते हैं.

 

 

Top Story
City List: 
Share
loading...