Skip to content Skip to navigation

Add new comment

जीत के लिये जान लगाने को तैयार खिलाड़ी: माटोस

News Wing

New Delhi, 12October: भारतीय अंडर-17 फुटबाल टीम के कोच लुई नोर्टन डि माटोस ने आज कहा कि फीफा अंडर-17 विश्व कप के आखिरी लीग मैच में कल घाना पर जीत दर्ज करने के लिये भारतीय टीम के खिलाड़ी अपनी जान लगा देंगे.

टीम कोलंबिया के खिलाफ हुए मैच से बेहतर प्रदर्शन करेंगे

भारतीय टीम अपने पहले मैच में अमेरिका से 0-3 हार गयी. दूसरे मैच में कोलंबिया के खिलाफ मैच में टीम ने अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन उसे 1-2 की शिकस्त झेलनी पड़ी. माटोस ने कहा कि खिलाड़ी मैच में जीत के लिये तैयार है और वह कोलंबिया के खिलाफ हुए मैच से बेहतर प्रदर्शन करेंगे.

कोच के तौर पर मैं भी गौरवान्वित हूं:  माटोस 

उन्होंने कहा, ‘‘टीम आखिरी लीग मैच में बहुत अच्छा प्रभाव छोडना चाहती है. मुझे लगता है जिस तरह का खेल खिलाड़ियों ने खेला है लोगों को उस पर फख्र होगा. कोच के तौर पर मैं भी गौरवान्वित हूं.

कल के मैच के लिए तैयार है टीम

कल के मैच में वे 100 नहीं 200 प्रतिशत देना चाहते है. हम भारतीय फुटबाल के लिये जान लगाने के लिये तैयार है.’’ उन्होने कहा, ‘‘ जान लगाने का मतलब है कि मैच के लिये सबकुछ झोक देना. सुबह खिलाड़ियों से मैंने बातचीत की है और उन्हें पूरी तरह विश्वास है कि कल का मैच जीतेंगे. यह शानदार है. आपको एक मैच में जीत की मानसिकता के साथ उतरना है जहां आप हार के बारे में नहीं सोच रहें.

कल का मैच मेरे लिए सबसे मुश्किल मैच है: माटोस 

’’ माटोस ने कहा कि कोलंबिया की तुलना में घाना की टीम ज्यादा खतरनाक है लेकिन उनके खिलाड़ी जीत के लिये उतरेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘ मेरे लिए कल का मैच सबसे मुश्किल मैच है क्योंकि वे (घाना) दो बार के चैम्पियन हैं. वे तेज खेलते है और मजबूत है. घाना और कोलंबिया में यह समानता है कि उनके दोनों विंगर काफी मजबूत है और कही से मैच का फैसला कर सकते है.’’ इस मैच में भारतीय टीम को चोटिल कप्तान अमरजीत सिंह और रक्षापंक्ति में अहम भूमिका निभाने वाले अनवर अली के बिना उतरना पड़ सकता है.

कोच ने कहा, ‘‘ हमने उन्हें आज सशर्त प्रशिक्षण दिया है. उनकी जगह नये खिलाड़ियों को उतारने पर फैसला उनकी फिटनेस पर निर्भर करेगा.’’

Lead
Share
loading...