Skip to content Skip to navigation

न्यूज विंग के जागरूक पाठक अपनी समस्या, अपने आस-पास हो रही अनियमितता की तस्वीर या कोई अन्य खबर फोटो के साथ वाहट्सएप नंबर - 8709221039 पर भेजे. हम उसे यहां प्रकाशित करेंगे.

शिवसेना का भाजपा पर हमला, केवल एक दल के पास है ‘अकूत धन’

News Wing

Mumbai, 23 October : 
केंद्र में सत्तारूढ भारतीय जनता पार्टी का नाम लिए बगैर शिवसेना ने आज यहां दावा किया कि केवल ‘‘एक पार्टी’’ के पास ‘‘अकूत धन’’ है और यह पार्टी ‘‘लोगों द्वारा खारिज’’ किये जाने के बावजूद गोवा तथा मणिपुर में सत्ता में आयी है. पार्टी ने यह भी दावा किया है कि इस धन का इस्तेमाल शिव सेना को ‘उखाड फेंकने’ की कोशिश में किया जा रहा है.

‘सामना’ के संपादकीय में लिखा

शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में लिखा गया है, ‘‘नोटबंदी के बाद लोगों ने मंदी का दौर देखा लेकिन एक पार्टी लगातार ऊपर चढ़ती गई और लोगों द्वारा खारिज किये जाने के बावजूद गोवा और मणिपुर में सत्ता में आयी.’’ उल्लेखनीय है कि इस साल मार्च में भारतीय जनता पार्टी ने गोवा और मणिपुर में सरकार का गठन किया था.



संपादकीय में कहा गया है कि आवाम यह देख रही है कि कौन सी पार्टी ‘‘पैसों के जोर पर सौदेबाजी में लगी’’ हुई है. इसमें कहा गया है, ‘‘इसी धन का इस्तेमाल शिवसेना को उखाड फेंकने में किया जा रहा है.’’ गठबंधन के वरिष्ठ सहयोगी का हवाला देते हुए तथा भाजपा नाम लिए बगैर संपादकीय में लिखा गया है कि पार्टी यह ‘‘डींग मारती’’ है कि शिवसेना की समर्थन वापसी के बावजूद महाराष्ट्र में सरकार स्थिर रहेगी.

अकूत धन के बल पर ही यह डींग मारी जा रही

शिवसेना ने कहा है, ‘‘अकूत धन के बल पर ही यह डींग मारी जा रही है. यह आश्चर्यजनक है कि उनके खिलाफ जांच के लिए किसी ने भी प्रवर्तन निदेशालय को संपर्क नहीं किया है.’’ इसमें यह भी दावा किया गया है कि व्यापारियों के पैसों के जोर पर वृहन्मुंबई नगर निगम पर भी कब्जा करने का प्रयास किया गया.



संपादकीय में कहा गया है कि मनसे के छह पार्षदों के शामिल होने के बाद शिवसेना की बढती ताकत से विपक्षी कांग्रेस और राकंपा भी उतने व्याकुल नहीं हैं जितनी ‘‘अकूत धन वाली पार्टी’’ है.

Top Story
Share

Add new comment

loading...