Skip to content Skip to navigation

शरद को राष्ट्रीय परिषद की बैठक करने का कोई हक़ नहीं : जदयू

News Wing

Patna, 09 October : जदयू ने विक्षुब्ध नेता शरद यादव द्वारा बुलाई गयी राष्ट्रीय परिषद की बैठक को अवैध करार देते हुए आज कहा कि उन्हें ऐसा करने का अधिकार नहीं है.

राज्यसभा सदस्य और पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव आर सी पी सिंह ने आज संवाददाताओं से कहा कि शरद गुट के पार्टी नाम और प्रतीक चिन्ह के आवंटन की मांग को चुनाव आयोग द्वारा दो बार खारिज कर दिया. इसके मद्देनजर उन्हें पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक के आयोजन का अधिकार नहीं है.

बैठक पूरी तरह से अवैध

उन्होंने कहा, "मुझे समाचार पत्रों के माध्यम से पता चला कि शरद यादव ने कल राष्ट्रीय परिषद की बैठक बुलाई थी. यह है पूरी तरह से अवैध है. शरद यादव ने दावा किया है कि उनके द्वारा कल (नई दिल्ली में) बुलाई गयी राष्ट्रीय परिषद की बैठक में 500 ​​सदस्यों ने भाग लिया यह हकीकत से परे है.



सिंह ने कहा कि शरद यादव ने जिस सूची का उल्लेख किया वह न केवल "नकली" है बल्कि एक पुरानी सूची है. नवंबर 2016 में राजगीर में नीतीश कुमार के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने जाने के साथ ऐसे लोगों का कार्यकाल 2015 में समाप्त हो गया था. इनके नाम का प्रस्ताव शरद यादव ने बैठक में अपना नाम प्रस्तावित किया था.

शरद का दावा गलत

उन्होंने कहा कि आश्चर्य की बात यह है कि शरद ने उनके द्वारा बुलायी गयी बैठक में 500 सदस्यों के भाग लेने का दावा किया है जबकि वर्तमान में राष्ट्रीय परिषद में सदस्यों की संख्या 194 ही है.

सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय परिषद कुल 194 सदस्यों में से सबसे बड़ी संख्या 103 बिहार से, 35 केरल से, 31 झारखंड से, 23 जम्मू एवं कश्मीर से और 2 दादर और नगर हवेली से है.

Share

Add new comment

loading...