Skip to content Skip to navigation

न्यूज विंग के जागरूक पाठक अपनी समस्या, अपने आस-पास हो रही अनियमितता की तस्वीर या कोई अन्य खबर फोटो के साथ वाहट्सएप नंबर - 8709221039 पर भेजे. हम उसे यहां प्रकाशित करेंगे.

व्यापारी संगठन ने जीएसटी नेटवर्क की खामियों के लिये इन्फोसिस के खिलाफ सीबीआई जांच की मांग की

News Wing

New Delhi, 02 November : व्यापारियों के प्रमुख संगठन कन्फेडरेशन आफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने जीएसटी नेटवर्क में त्रुटियों के लिए इन्फोसिस को जिम्मेदार ठहराते हुए उसकी तरफ से की गई अनदेखियों की सीबीआई जांच की मांग की है. वहीं देश की दूसरी सबसे बड़ी आईटी सेवा कंपनी इन्फोसिस ने इस आरोप का पूरी तरह से खंडन किया है.

उल्लेखनीय है कि इन्फोसिस ने माल व सेवा कर (जीएसटी) के लिए आईटी बुनियादी ढांचे जीएसटी नेटवर्क या जीएसटीएन के विकास व संचालन के लिए 1380 करोड़ रुपये का ठेका हासिल किया था.  कैट ने ‘जीएसटी पोर्टल के खराब प्रदर्शन’ पर निराशा जताई है और इसके लिए मुख्य रूप से इन्फोसिस को जिम्मेदार बताया है.



इन्फोसिस ने आरोपों का खंडन किया

संगठन ने ‘इन्फोसिस व उन अन्य कंपनियों के खिलाफ सीबीआई जांच की मांग की है जिन्हें जीएसटी पोर्टल बनाने, इसके उन्नयन व रखरखाव का काम दिया गया था.’ वहीं इन्फोसिस ने इन आरोपों का खंडन करते हुए इन्हें पूरी तरह गलत करार दिया है.



कंपनी ने एक बयान में कहा है, ‘इन्फोसिस को इस प्रतिष्ठित जीएसटी परियोजना से जुड़कर गर्व है जो कि दुनिया में अपनी तरह की सबसे बड़ी कर परियोजना है. प्रणाली पहले ही अनेक मानकों पर सफल रही है.’ हालांकि कंपनी का कहना है- परियोजना की जटिल प्रवृत्ति व प्रबंधन में तेजी से बदलाव के मद्देनजर भागीदारों की कुछ चिंताएं उठायी गयी हैं जिन्हें दूर करने के लिए टीम के हमारे कुछ सबसे अच्छे अभियंता मदद कर रहे हैं.

Lead
Share

Add new comment

loading...