Skip to content Skip to navigation

रामगढ़ में स्वच्छता अभियान बना मजाक, स्वच्छता दूत और वार्ड सदस्य हुए निष्क्रिय

News Wing Ramgarh, 13 October: रामगढ़ शहर में स्वच्छ भारत अभियान सिर्फ नाम का ही रह गया है. शहर की सड़कों पर गंदगी का अंबार लगा है. छावनी परिषद के द्वारा स्वच्छता पखवाड़ा के तहत छावनी क्षेत्र के सभी आठों वार्ड में नियुक्त किये गये स्वच्छता दूत और वार्ड सदस्य निष्क्रिय साबित हो रहे हैं. छावनी क्षेत्र के चारों ओर गंदगी का अंबार लगा हुआ है. कहीं भी स्वच्छता नहीं दिख रही है और ना ही स्वच्छता अभियान का असर दिख रहा है.

सिर्फ फोटो में स्वच्छता अभियान

वार्ड सदस्य और स्वच्छता दूत सिर्फ 2 अक्टूबर से पूर्व ही स्वच्छता के प्रति ही अपनी सक्रीयता दिखाते रहे और केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा के द्वारा स्वच्छता कप पाकर अपना फोटो सोशल मीडिया में डाल कर अपनी वाहवाही लूटते रहे.

छावनी परिषद के पदाधिकारी की सफाई

गंदगी पर छावनी परिषद के स्वच्छता निरीक्षण केएन तिवारी ने अजीब सी दलील दी है. उन्होंने कहा कि अभी दीवाली का त्योहार नजदीक है. इसलिए लोग अपने घरों में सफाई कर रहे हैं. जाहिर है गंदगी सड़कों पर फैलेगी. इसलिए हम कोशिश कर के भी फिलहाल पूरी तरह सड़कें और नालियों को साफ नहीं रख सकते.

Top Story
City List: 
Share

Add new comment

loading...